पर्यटन एवं देवस्थान मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने कहा कि राज्य सरकार ने 8 जून से समस्त होटल एवं रेस्टोरेन्ट को भी खोलने की अनुमति प्रदान की है। जिसके तहत जिले में संचालित होटल, मोटल एवं रेस्टोरेन्ट खुलेंगे।

पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए होटल एवं रेस्टोरेन्ट का 8 जून से होगा संचालन – पर्यटन मंत्री

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Last Updated on June 7, 2020 by Shiv Nath Hari

पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए होटल एवं रेस्टोरेन्ट का 8 जून से होगा संचालन –  पर्यटन मंत्री

भरतपुर, 7 जून।  पर्यटन एवं देवस्थान मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने कहा कि राज्य सरकार ने 8 जून से समस्त होटल एवं रेस्टोरेन्ट को भी खोलने की अनुमति प्रदान की है। जिसके तहत जिले में संचालित होटल, मोटल एवं रेस्टोरेन्ट खुलेंगे।

पर्यटन मंत्री रविवार को सर्किट हाउस में स्थानीय पत्रकारों एवं मीड़ियाकर्मियों के साथ प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि ऐसे कोविड-19 महामारी के समय में हमें विशेष परिस्थितियों को मद्देनजर रखते हुए अपने आप को एवं आने वाले ग्राहकों की पूर्ण सुरक्षा रखनी होगी। इसके लिए केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा जारी चिकित्सकीय गाइडलाइन की शत-प्रतिशत पालना सुनिश्चित करनी होगी। उन्होंने कहा कि सभी अतिथियों एवं स्टाफ की होटल या रेस्टोरेन्ट में प्रवेश से पूर्व थर्मल स्क्रीनिंग जांच अनिवार्य होगी तथा होटल व रेस्टोरेन्ट के एरिया में समस्त लोगों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा। उन्होंने कहा कि होटल व रेस्टोरेन्ट के किचिन में सोशल डिस्टेंसिंग की पालना अनिवार्य रूप से करनी होगी।

पर्यटन मंत्री ने कहा कि होटल व रेस्टोरेन्ट के वातानूकूलन क्षेत्रों में एसी का तापमान 23-24 डिग्री मेंटेन किया जायेगा तथा होटल व रेस्टोरेन्ट में अगर संभव हो तो डिस्पोजेबल मैन्यू उपयोग करना होगा। उन्होंने कहा कि होटल व रेस्टोरेन्ट में काॅन्टेक्ट लैस पेमेंट जैसे- ई-वाॅलेट तथा डिजिटल पेमेंट किया जायेगा। होटल व रेस्टोरेन्ट में पोस्टर्स तथा ए.वी. मीडिया के माध्यम से कोविड-19 से बचने के उपायों को सदृश्य स्थल या स्वागत कक्ष में किये जायेंगे एवं होटल व रेस्टोरेन्ट जिम, स्पा और स्वीमिंग पूल पूर्णतय बंद रहेंगे तथा चिल्ड्रन प्ले एरिया भी बंद रहेगा। उन्होंने कहा कि होटल व रेस्टोरेन्ट में किसी भी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण दिखने पर नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र तथा स्टेट व जिला स्तरीय हैल्पलाइन पर सूचना देना अनिवार्य होगा।

जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने कहा कि जिले में कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के खतरे को देखते हुए गत 4 दिवस का कफ्र्यू लगाया गया था लेकिन स्ट्रीट वेन्डरों एवं दैनिक श्रमिकों की स्थिति को मद्देनजर रखते हुए रविवार से बाजार पुनः खुले गये हैं लेकिन बाजार की स्थिति की समीक्षा करने के पश्चात पुनः यह निर्णय लिया गया है कि बाजार खुलने का समय प्रातः 9 बजे से सायं 6 बजे तक खोलने के स्थान पर सोमवार से प्रातः 9 बजे से अपरान्ह 3 बजे तक खुले रहेंगे। उन्होंने कहा कि प्रत्येक शनिवार को जनप्रतिनिधियों, व्यापार मंडलों के प्रतिनिधियों के साथ शहर की स्थिति की समीक्षा की जायेगी तथा उसी के अनुरूप व्यापारिक गतिविधियों के संचालन की व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी।

उन्होंने जिलेवासियों से अपील की है कि वे जिले में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मास्क की अनिवार्यता, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना सहित राज्य सरकार की चिकित्सकीय गाइडलाइन की कठोरता से स्वयं करें एवं अन्य लोगों को भी इसके लिए जागरूक करें। उन्होंने एक सवाल के जबाव में कहा कि आमजन के जीवन में बैंक की भूमिका को देखते हुए बैंकों के खुलने का समय भी प्रातः 10 बजे से अपरान्ह 3 बजे तक रखा गया है। उन्होंने कहा कि विश्व विख्यात केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान को भी 9 जून मंगलवार से पर्यटकों के लिए खोला जायेगा।

Advertisement
Advertisement