प्राकृतिक खेती व सब्जी उत्पादन के गुर सिखाए,कृषकों को फ्री में बांटा किचिन बीज

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Last Updated on July 11, 2020 by Shiv Nath Hari

प्राकृतिक खेती व सब्जी उत्पादन के गुर सिखाए,कृषकों को फ्री में बांटा किचिन बीज

Taught the tricks of natural farming and vegetable production, distributed free kitchen seeds to farmers
प्राकृतिक खेती व सब्जी उत्पादन के गुर सिखाए,कृषकों को फ्री में बांटा किचिन बीज

हलेना -भरतपुर (विष्णु मित्तल) लुपिन फाउन्डेशन भरतपुर की ओर से वैर-भुसावर उपखण्ड क्षेत्र के आधा दर्जन गांव में कोविड-19 संक्रमण से बचाव करते हुए सब्जी उत्पादक कृषक गोष्ठी का आयोजित कर किचिन गार्डन का बीज वितरण किया गया,जिससें 50 लद्यु कृषक लाभाविन्त हुए,गोष्ठी की अध्यक्षता लुपिन के ब्लाॅक काॅर्डिनेटर गज्जनसिंह वर्मा ने की,मुख्य अतिथि ग्राम विकास पंचायत तिलचिवी के अध्यक्ष थानसिंह सिनसिनवार एवं पाली के अध्यक्ष वीरेन्द्रसिंह तथा विशिष्ठ अतिथि ओमप्रकाश शर्मा व किसनसिंह गांगरोली रहे।

गोष्ठी में कम भूमि एवं घर के आंगन में सब्जी पैदावार तथा सब्जी फसल को रोग से बचाव व रोग के लक्षण सहित सन्तुलित -असन्तुलित आहार से मानव जीवन पर होने वाले लाभ-हानि और प्राकृतिक खेती-बागवानी व सब्जी पैदावार आदि के गुर सिखाए। मुख्य वक्ता गज्जनसिंह वर्मा ने बताया कि लुपिन के अधिशासी निदेशक सीताराम गुप्ता,आरपीएम डाॅ.राजेश शर्मा एवं एसीपीएम डाॅ.भीमसिंह के आदेशानुसार वैर-भुसावर उपखण्ड क्षेत्र में कम भूमि पर सब्जी उत्पादक लद्यु कृषक सहित अन्य कृषकों को कोविड-19 संक्रमण से बचाव व शरीर की ताकत बढोत्तरी को सन्तुलित आहार के लिए निःशुल्क सब्जी बीज का वितरण जारी है,जिसके तहत गांव तिलचिवी, हिसामडा, धरसौनी,हलैना,नाहरकी,गांगरोली,अलीपुर,पथैना आदि स्थान के 50 कृषक लाभाविन्त हुए,जिन्हे भिण्डी,घीया,तोरई,टिण्डा,पालक आदि के बीज बांटे गए। तिलचिवी के लुपिन ग्रा.वि.पंचायत अध्यक्ष थानसिंह सिनसिनवार एवं पाली के अध्यक्ष वीरेन्द्रसिंह ने कहा कि लुपिन के अधिशासी निदेशक सीताराम गुप्ता ने सितम्बर 2019 में छह दिवसीय सेवर-भरतपुर में विश्व स्तरीय आवासीय डाॅ.सुभाष पालेकर प्राकृतिक खेती-बागवानी प्रशिक्षण शिविर लगवाया,जिसमें लगभग दस हजार से अधिक कृषक-पशुपालक आदि शामिल हुए,प्रशिक्षण के बाद गांव छौंकरवाडा कलां,पना,बल्लमगढ,सिरस, नैवाडा,बिजवारी आदि स्थान पर प्राकृतिक खेती व बागवानी होने लगी है। कार्यक्रम प्रभारी गज्जनसिंह वर्मा ने बताया कि गांव धरसौनी में शेरसिंह डागुर,पाली में वीरेन्द्रसिंह,तिलचिवी में थानसिंह,हिसामडा में ओमप्रकाश शर्मा,गांगरोली में किसनसिंह,अलीपुर में पदमसिंह,पथैना में राजूसिंह आदि की देखरेख में बीज बांटा गया। लुपिन के शिवसिंह धाकड एवं विष्ण मित्तल ने बागवानी व प्राकृतिक ख्ेाती आदि की जानकारी दी और बागवानी के लिए फलदार पौधाओं को पंजीकृत कराने की अपील की

Advertisement
Advertisement