रायपुर : प्रदेश में नमक पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध: अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील : छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा 56 लाख राशनकार्डधारियों को किया जा रहा निःशुल्क नमक का वितरण

Advertisement
Advertisement

Last Updated on May 12, 2020 by Shiv Nath Hari

Advertisement

रायपुर : प्रदेश में नमक पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध: अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील :  छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा 56 लाख राशनकार्डधारियों को किया जा रहा निःशुल्क नमक का वितरण

chhattisgarh news
Raipur: Salt available in sufficient quantity in the state: Appeal to ignore the rumors: Chhattisgarh government is distributing free salt to 56 lakh ration card holders

कालाबाजारी करने वालों पर कड़ाई से कार्रवाई : अब तक दो संस्थानों के विरूद्ध प्रकरण दर्ज

रायपुर, (12 मई 2020) राज्य में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम और इसके बचाव के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा अनेक प्रभावी कदम उठाए जा रहे है। राज्य सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य के लगभग 56 लाख 56 हजार राशनकार्डधारी परिवारों को शासकीय उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से निःशुल्क नमक प्रदान किया जा रहा है। लॉकडाउन की परिस्थितियों में प्रदेश में खाद्य पदार्थों और आवश्यक वस्तुओं की पर्याप्त उपलब्धता और आपूर्ति के साथ-साथ इनके बाजार मूल्योें की भी प्राईस मॉनिटरिंग सेल के माध्यम से सतत् निगरानी की जा रही है। खाद्य विभाग ने लोगों से यह स्पष्ट किया है कि प्रदेश में नमक पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं। इस संबंध में फैलाई जा रही अफवाहों पर ध्यान नही दें।

खाद्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि वर्तमान में राज्य में नमक और अन्य सभी आवश्यक खाद्य पदार्थ पर्याप्त मात्रा में एवं समुचित दरों पर खुले बाजार में आम उपभोक्ताओं के लिए सहज रूप से उपलब्ध है। राज्य के खुले बाजार में प्रतिमाह लगभग 8 से 10 हजार टन के नमक की आवक होती है। लॉकडाउन के दौरान भी खुले बाजार में नमक की आवक निरंतर हो रही है वहीं इसकी कालाबाजारी करने वालों पर कड़ाई से कार्रवाई भी की जा रही है।

राज्य शासन के नापतौल विभाग द्वारा 11 मई को राज्य के रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर, जगदलपुर, रायगढ़ और अम्बिकापुर जिले की 276 संस्थानों का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। नापतौल विभाग के अधिकारियों ने बताया कि दुर्ग के दो संस्थानों में नमक के पैकेट में उल्लेखित मूल्य के अधिक कीमत पर नमक बेचने वाले दो संस्थानों के विरूद्ध प्रकरण दर्ज किया गया।

Advertisement
Advertisement