पिछले 4 वर्षों से परिक्रमा मार्ग में प्रतिदिन सैकड़ों लोगों को निशुल्क भोजन करा रहे हैं रोटी वाले बाबा

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Last Updated on February 1, 2021 by Shiv Nath Hari

पिछले 4 वर्षों से परिक्रमा मार्ग में प्रतिदिन सैकड़ों लोगों को निशुल्क भोजन करा रहे हैं रोटी वाले बाबा

फोटो ड़ीग निशुल्क भोजन अभियान में सहयोग दे रहे कार्यकर्ता बंटी बंसल को सम्मानित करते हुए रोटी वाले बाबा

ड़ीग – 1 फरवरी नर की सेवा ही नारायण की सेवा है । शास्त्रों में कहा गया है किसी भूखे प्राणी का पेट भरना किसी जगह के पुण्य के समान है प्रत्येक प्राणी का दायित्व है कि वह असहाय जरूरतमंद लोगो की सेवा के लिए हर समय तत्पर रहें क्योंकि जो दूसरों का पेट भरता है उसका यह पुनीत कार्य आने वाली विपत्तियों के समक्ष नेकी की दीवार बनकर खड़ा हो जाता है। और ईश्वर उसकी सभी बाधाएं स्वयं हर लेता है। यह बात कस्बे के खंडेलवाल वैश्य भवन में आयोजित सत्संग कार्यक्रम में कृष्ण लीला स्थल गिर्राज जी की सप्तकोशीय परिक्रमा मार्ग में प्रतिदिन सैकड़ों लोगों को निशुल्क भोजन कराने वाले रोटी वाले बाबा के नाम से विख्यात बाबा नारायण दास ने कही।

श्री किशोरी धाम सेवा संस्थान ट्रस्ट के माध्यम से यह पुनीत कार्य कर रहे रोटी वाले बाबा ने बताया कि वह पिछले 4 बर्षो से इस पुनीत कार्य मे जुटे हुए है वह गांव गांव जाकर श्री किशोरी धाम सेवा ट्रस्ट के माध्यम से भजन कीर्तन रासलीला कर भगवान नाम का प्रचार प्रसार करते हैं। सैकड़ो लोग निशुल्क भोजन अभियान बढ़-चढ़कर अपना योगदान दे रहे है । इस मौके पर उन्होंने इस अभियान में सहयोग दे रहे कार्यकर्ता बंटी बंसल को दुपट्टा ओढ़ा कर सम्मानित किया।

Advertisement
Advertisement