Rajasthan: हाई कोर्ट में अब ईमेल से दायर कर सकते है केस जाने पूरी प्रकिया

Bharatpur News: लाॅकडाउन में रोजी-रोटी को लेकर घबराने की जरूरत नहीं-डिडेल |

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Last Updated on March 28, 2020 by Shiv Nath Hari

Bharatpur News: लाॅकडाउन में रोजी-रोटी को लेकर घबराने की जरूरत नहीं-डिडेल |

Bharatpur News: भरतपुर, 28 मार्च। जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने कहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हुए 21 दिन के लाॅकडाउन के दौरान लोगों को रोजी-रोटी को लेकर किसी भी प्रकार से घबराने की जरूरत नहीं है। राज्य सरकार के निर्देशानुसार लाॅकडाउन के कारण प्रभावित निराश्रित, गरीब एवं जरूरतमंद परिवारों को 1 हजार रूपये प्रति परिवार की एक मुश्त सहायता राशि उपलब्ध करवायी जा रही है। इसके साथ ही खाद्य सामग्री किट और भोजन पैकेट्स का वितरण भी जिला प्रशासन भामाशाहों के सहयोग से करवा रहा है।

उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन यह सुनिश्चित करेगा कि कोई भी श्रमिक, रिक्शाचालक, स्ट्रीट वेंडर, असहाय और जरूरतमंद परिवार सहायता से वंचित न रहे। उन्होंने कहा कि बीपीएल, स्टेट बीपीएल, अत्योदय योजना में आने वाले ऐेसे परिवार जिनको सामाजिक सुरक्षा पेंशन का लाभ नहीं मिल रहा है और पंजीकृत निर्माण श्रमिकों को राज्य स्तर पर ही जनआधार डेटाबेस के अनुसार चिह्नित कर उनके बैंक खातों में राशि भिजवा दी जायेगी। राशि भुगतान की सूचना लाभान्वित परिवारों के पास मोबाईल पर एसएमएस से पहुंच जायेगी। उन्होंने कहा कि इसके बाद भी उपरोक्त में से जो परिवार भुगतान से वंचित रह जायेंगे उन्हें जिला स्तर से भुगतान सुनिश्चित किया जायेगा।


जिला कलक्टर ने कहा कि उपरोक्त श्रेणियों में जो ठेले, थडी वाले, श्रमिक, रिक्शा चालक, निराश्रित तथा असहाय जरूरतमंद परिवार शामिल नहीं हैं उनका सर्वे कर सूची बनाने के निर्देश नगर निगम आयुक्त, समस्त नगरपालिकाओं के अधिशाषी अधिकारियों को दिये हैं। सर्वे का कार्य मेडिकल एडवाइजरी की पालना करते हुए किया जाना है। केवल परिवार के मुखिया से ही सूचना प्राप्त करनी है ताकि अनावश्यक भीड जमा नहीं हो। इन परिवारों को जिला प्रशासन उनके बैंक खाते में राशि भिजवायेगा। सर्वेकर्ता को सम्बंधित व्यक्ति के बचत खाता पासबुक की प्रति भी प्राप्त करनी होगी।

Advertisement
Advertisement