एशियन डवलपमेंट बैंक के सहयोग से भरतपुर में पर्यटन विकास पर हुई कार्यशाला

Last Updated on October 11, 2022 by Swati Brijwasi

Workshop on tourism development in Bharatpur in collaboration with Asian Development Bank

एशियन डवलपमेंट बैंक के सहयोग से भरतपुर में पर्यटन विकास पर हुई कार्यशाला
विशेषज्ञों ने पर्यटन विकास की संभावनाओं की दी जानकारी
पर्यटन को बढावा देने के लिये सभी विभागों को मिलकर करना होगा प्रयास – डॉ. गर्ग
भरतपुर, 11 अक्टूबर। एशियन डवलपमेंट बैंक की टीम की ओर से मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में भरतपुर में पर्यटन विकास की संभावनाओं पर कार्यशाला आयोजित की जिसकी अध्यक्षता तकनीकी शिक्षा एवं आयुर्वेद राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने की।
कार्यशाला में बैंक के प्रतिनिधियों ने बताया कि राज्य के भरतपुर , नवलगढ एवं जोधपुर में पर्यटन को बढावा देने के लिये इस प्रकार की कार्यशालाऐं आयोजित की जा रही है। कार्यशाला में बताया गया कि कोरिया, वियतनाम एवं सिंगापुर में स्थानीय संसाधनों का उपयोग कर पर्यटन को बढावा दिया जिसकी वजह से इन देशों की आय में काफी इजाफा हुआ है। कार्यशाला में बताया गया कि वर्तमान में जो संसाधन उपलब्ध हैं उनका बेहतर ढंग से उपयोग करना होगा तथा विरासत के साथ स्थानीय संस्कृति को परिचित कराने के लिये कार्यक्रम आयोजित करने होंगे ताकि पर्यटन को बढावा मिले और पर्यटक अधिक समय तक ठहर सकें।
कार्यशाला में बताया गया कि साउथ कोरिया में पर्यटन कई गुना बढ गया है क्योंकि वहॉ की सरकार ने पर्यटन के विकास के लिये सभी संसाधनों का उपयोग किया। कार्यशाला में यह भी बताया गया कि प्राचीन धरोहरों के साथ साथ प्राकृतिक स्थलों को भी संरक्षित करना होगा क्योंकि अधिकांश पर्यटक प्राकृतिक स्थलों के संबंध में अधिक रूचि रखते हैं। कार्यशाला में साउथ कोरिया के खान ए ने बताया कि साउथ कोरिया में ऐतिहासिक स्थलों के साथ सरकार ने प्राकृतिक स्थलों को भी विकसित किया है यही कारण है कि आज कोरिया की आय पर्यटन व्यवसाय से कई गुना बढ गई है।
कार्यशाला की अध्यक्षता करते हुये तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि भरतपुर की विरासत काफी समृद्व है जिसे सहेजने की जरूरत है। पर्यटन के स्थलों के विकास के लिये सभी विभागों को मिलकर प्रयास करना होगा और लोगों में इनके संरक्षण के प्रति जागृति लानी होगी। नगर निगम के मेयर अभिजीत कुमार ने बताया कि शहर में गन्दे पानी की निकासी के लिये ड्रेनेज परियोजना प्रारम्भ की गई है और 362 करोड रूपये की लागत से सीवरेज का कार्य प्रगति पर है।
कार्यशाला में नगर निगम, नगर विकास न्यास , सार्वजनिक निर्माण विभाग, जल संसाधन सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Comment