Bharatpur News: पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने जनसुनवाई कर समस्याओं का तत्परता से समाधान करने के दिए निर्देश

Last Updated on May 19, 2022 by Swati Brijwasi

पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने जनसुनवाई कर समस्याओं का तत्परता से समाधान करने के दिए निर्देश

https://sntv24samachar.com/2022/05/19/bharatpur-news-tourism-minister-vishvendra-singh-gave-instructions-to-solve-the-problems-promptly-by-conducting-public-hearing/

भरतपुर, 19 मई। पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने गुरूवार को जिला मुख्यालय स्थित सर्किट हाउस में जनसुनवाई की। जनसुनवाई में आये परिवादों में व्यक्तिगत और सार्वजनिक समस्यायें थी, इसके अतिरिक्त विकास कार्यों के सम्बंध में भी कई प्रकरण आये। पर्यटन मंत्री ने कुछ परिवादों में
सम्बंधित अधिकारियों को निर्देशित कर मौके पर ही समाधान करवाया तथा अन्य मामलों में जल्द से जल्द जाॅंच कर समाधान करने के निर्देश दिये।
चम्बल प्रोजेक्ट की धीमी प्रगति, प्रोजेक्ट की पाइपलाइन बिछाने के काफी समय बाद भी कटी हुई सडकों की मरम्मत न होने या निर्धारित मानक के हिसाब से मरम्मत न होने के प्रकरण जनसुनवाई में आये। इस पर पर्यटन मंत्री ने कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिये। इस कार्य में लापरवाही पर कठोर
कार्रवाई होगी। उन्होंने निर्देश दिये कि जिन गांवों में अभी पेयजल सप्लाई शुरू नहीं हुई है, वहाॅं आवश्यकता के अनुसार पेयजल टैंकर शुरू करें या टैंकरों की संख्या बढाये। यदि जिले में कहीं भी पेयजल समस्या होती है तो अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जायेगी। उन्होंने चम्बल प्रोजेक्ट, पीएचईडी और जेवीवीएनएल के अधिकारियों को बेहतर समन्वय से
कार्य करने के निर्देश दिये ताकि पेयजल स्रोतों पर अबाध विद्युत सप्लाई सुनिश्चित हो, खराब ट्रांसफार्मर तत्काल बदले जायें तथा नये विद्युत
कनेक्शन होने में कम से कम समय लगे।
पर्यटन मंत्री को मनरेगा व ग्रामीण विकास के कार्यों संबंधी कई परिवाद
दिये गये। इस पर उन्होंने जिला परिषद सीईओ सुशील कुमार को मनरेगा कार्यों
की संख्या बढाने, जाॅंब कार्ड धारकों को प्रपत्र 5 भरवाने के सम्बंध में
जागरूक करने, व्यक्गित और सार्वजनिक लाभ के कार्यों में गुणवत्ता और समय
सीमा का पूर्ण ध्यान रखने, मनरेगा में विभिन्न विभागों की योजनाओं का
अधिक से अधिक कन्वर्जेंस करने के निर्देश दिये।
जनसुनवाई में गुडवा निवासी मीरा और उसके पति जलसिंह ने दिव्यांग स्कूटी
देने की मांग की। इस पर जिला कलेक्टर आलोक रंजन ने बताया कि अभी ट्राई
साईकिल उपलब्ध हैं, इसके लिये आवेदन कर दें, स्कूटी सम्बंधी योजना आने पर
स्कूटी भी दिला देंगे। कलेक्टर ने बताया कि मीरा को स्वरोजगार के लिये
सिलाई मशीन वितरित की जा चुकी है तथा इस दम्पत्ति को विशेष योग्यजन सुखद
दाम्पत्य योजना में 50 हजार रू का अनुदान भी दिया गया है, जिससे इन्हें
स्वरोजगार में काफी सम्बल मिला है। इस पर पर्यटन मंत्री ने प्रसन्नता
जाहिर की।
जनसुनवाई में अतिक्रमण, घरेलू और कृषि विद्युत कनेक्शन, खाद्य सुरक्षा
में नाम जोडने, नालियों और सडकों की साफ-सफाई, गांवों में ग्रेवल और सीसी
सडकों के निर्माण आदि के सम्बंध में भी कई प्रकरण आये। पर्यटन मंत्री ने
परिवादियों को बताया कि राज्य सरकार की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का
लाभ उठाये। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में अपने परिवार
का पंजीकरण आवश्यक रूप से करवायें। इस दौरान नगरपालिका कुम्हेर के
अध्यक्ष राजीव सिंघल, नगरपालिका डीग के अध्यक्ष निरंजन टकसालिया,
अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) रघुनाथ खटीक, उपखण्ड अधिकारी भरतपुर
देवेन्द्र सिंह परमार, उपखण्ड अधिकारी कुम्हेर वर्षा मीणा, उपखण्ड
अधिकारी डीग हेमन्त कुमार, नगर विकास न्यास के सचिव कमलराम मीणा, प्रमुख
चिकित्सा अधिकारी डाॅ. जिज्ञासा साहनी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य
अधिकारी डाॅ. सुनील शर्मा सहित समस्त विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी

मौजूद रहे।

Leave a Comment