भरतपुर में चिकित्सा के क्षेत्र में एक और बढा कदम: स्वीकृत हुई कैथ लैब,अब एंजीयोग्राफी एवं स्टेंट डालने का कार्य हो सकेगा भरतपुर में

Last Updated on May 18, 2022 by Swati Brijwasi

भरतपुर में चिकित्सा के क्षेत्र में एक और बढा कदम: स्वीकृत हुई कैथ लैब,अब एंजीयोग्राफी एवं स्टेंट डालने का कार्य हो सकेगा भरतपुर में

कैथ लैब के लिए डॉ. गर्ग ने स्वीकृत करायें 8 करोड़ रुपये

अब एंजीयोग्राफी एवं स्टेंट डालने का कार्य हो सकेगा भरतपुर में

भरतपुर 18 मई। चिकित्सा के क्षेत्र में भरतपुर को नई नई सौंगाते मिलने का क्रम जारी है। इसी क्रम में क्षेत्रीय विधायक एवं तकनीकी शिक्षा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने भरतपुर मेडीकल कॉलेज को कैथ लैब स्थापित करने के लिए 8 करोड रुपये स्वीकृत कराये हैं। इस लैब के बनने के बाद भरतपुर में ही हार्ट रोगियों की एंजीयोग्राफी व स्टेंट डालने की प्रक्रिया प्रारंभ हो जायेगी।


तकनीकी शिक्षा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग बताया कि अब तक भरतपुर क्षेत्र के हार्ट रोगी एंजीयोग्राफी व स्टेंट डलवाने के लिए जयपुर अथवा अन्य बडे शहरों में जाते थे। जिससे उन्हें काफी परेशानी होती थी किन्तु कैथ लैब भरतपुर में बनने के बाद यह सुविधा स्थानीय स्तर पर ही मिलना प्रारंभ हो जायेगी जिसका फायदा भरतपुर के साथ साथ आस पास के जिलों के रोगियों को भी मिलेगा।

कैथ लैब के लिए स्वीकृत राशि में से 6.5 करोड रुपये मशीनों की उपलब्धता एवं करीब 1.5 करोड रुपये अन्य संसाधनों पर व्यय किये जायेगे। मंत्री डॉ. गर्ग ने बताया कि कैथ लैब लगने की प्रक्रिया में करीब 6 माह का समय लगेगा।
………………………………………….

Leave a Comment