विराटनगर स्थित बीजक पहाड़ी पर मार्च 2021 तक होंगे विकास कार्य पूर्ण- गोविन्द सिंह डोटासरा

Last Updated on March 2, 2020 by Shiv Nath Hari

Latest Rpsc news in hindi:

जयपुर, 2 मार्च। पर्यटन राज्य मंत्री श्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने सोमवार को विधानसभा में आश्वस्त किया कि विराटनगर स्थित बीजक पहाड़ी पर चल रहे विकास कार्य मार्च 2021 तक पूर्ण कर लिये जाएंगे।

 
श्री डोटासरा प्रश्नकाल में विधायकों द्वारा इस संबंध में पूछे गये पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा किसी भी ऎतिहासिक स्थल को पर्यटन स्थल घोषित नहीं किया जाता है बल्कि पर्यटकों की आवाजाही से वह स्थल स्वतः ही पर्यटन स्थल बन जाता है। उन्होंने कहा कि विराटनगर में लगभग 500 लाख रुपये की राशि के विकास कार्य चल रहे है। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक एवं एनओसी नहीं होने के कारण कार्य समय पर पूरे नहीं किये जा सके। उन्होंने आश्वस्त किया कि सारी व्यवस्था होने के बाद नियमानुसार संचालन की व्यवस्था भी की जाएगी।


इससे पहले विधायक श्री इन्द्राज सिंह गुर्जर के मूूल प्रश्न के जवाब में पर्यटन राज्य मंत्री ने बताया कि विगत पांच वषोर्ं में विधान सभा क्षेत्र विराट नगर में राज्य सरकार द्वारा कुल 336.79 लाख रुपये के विकास कार्य कराए गए हैं। उन्होंने बताया कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के द्वारा कुल 22.2 लाख रुपये के विकास कार्य कराए गए हैं। उन्होंने विराटनगर विधान सभा क्षेत्र में विगत पांच वर्षों में स्वीकृत कार्यों का विवरण सदन के पटल पर रखा। उन्होंने बताया कि विभाग में विकास कायोर्ं के लिए बजट उपलब्धता एवं प्राथमिकता के आधार पर युक्तियुक्त निर्णय लिया जाता है। 


श्री डोटासरा ने बताया कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण से प्राप्त सूचना अनुसार विराटनगर में बीजक की पहाड़ी पर स्थित उत्खनित स्थल संरक्षित स्थल है। उत्खनन के दौरान वहां पर मौर्यकालीन ईटों से निर्मित गोलाकार स्तूप मिला है, जिसमें 26 लकड़ी के अष्टाकार स्तम्भ थे। साथ ही मठ के अवशेष भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण को प्राप्त हुए हैं। उन्होंने इस स्थल पर कराए गए विकास कार्यों का विवरण सदन के पटल पर रखा।


उन्होंने बताया कि विराटनगर विधानसभा क्षेत्र में बजट उपलब्धता एवं प्राथमिकता के आधार पर  अन्य  विकास कायार्ें के लिए युक्तियुक्त निर्णय लिया जाएगा।  

Leave a Comment