UPPCS-2018 का रिजल्ट घोषित, पानीपत की अनुज नेहरा को मिला पहला रैंक, टॉप थ्री में तीनों लड़कियां

Last Updated on September 11, 2020 by Shiv Nath Hari

UPPCS-2018 का रिजल्ट घोषित, पानीपत की अनुज नेहरा को मिला पहला रैंक, टॉप थ्री में तीनों लड़कियां

source- Shiv nath Hari

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC) ने पीसीएस-2018 का रिजल्ट घोषित कर दिया है. इस बार टॉप थ्री में लड़कियों ने बाजी मारी है. यूपीपीसीएस परीक्षा 2018 में पानीपत की अनुज नेहरा ने पहली रैंक हासिल की. दूसरे स्थान पर गुड़गांव की संगीता राघव और तीसरे स्थान पर मथुरा की ज्योति शर्मा रहीं. चौथे स्थान पर जालौन के विपिन कुमार शिवहरे व पांचवें स्थान पर पटना के कर्मवीर केशव रहे.

यूपीपीसीएस परीक्षा में 988 पदों के लिए 976 अभ्यर्थी सफल हुए हैं. आयोग के मुता​बिक सूचना अधिकारी व जिला सूचना अधिकारी के 12 पदों के लिए उपयुक्त अभ्यर्थी नहीं मिल पाए, जिस वजह से इन पदों को खाली छोड़ दिया गया है. इस परीक्षा के लिए हुए इंटरव्यू में 2669 अभ्यर्थी सफल हुए. इंटरव्यू में 68 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे. पीसीएस 2018 के लिए इंटरव्यू 15 जुलाई से 25 अगस्त तक हुआ था. यह जानकारी यूपी लोक सेवा आयोग के सचिव जगदीश ने दी है.

कौन हैं टॉप करने वाली अनुज नेहरा, रोज 12 घंटे करती थीं पढ़ाई

यूपीपीसीएस 2018 की परीक्षा में टॉप करने वाली हरियाणा के पानीपत निवासी अनुज नेहरा ने पहले ही प्रयास में ही पहला स्थान हासिल किया है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अनुज नेहरा ने बताया कि उन्हें पहला स्थान हासिल करने की उम्मीद नहीं थी. अनुज नेहरा के पिता अश्बीर सिंह भूतपूर्व सैनिक हैं, और सेना के हवलदा रैंक से रिटायर हुए हैं. अनुज नेहरा की मां गृहिणी हैं. उनके अनुज भाई पीजीआई रोहतक में डॉक्टर हैं. अनुज ने बताया कि वह परीक्षा के दौरान लगभग रोज 12 घंटे तक पढ़ाई करती थीं.अनुज ने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता को दिया और बताया कि इसके लिए उनके माता-पिता का हमेशा पूरा सहयोग मिला और उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया.

यूपीपीसीएस परीक्षा 2018 का रिजल्ट अयोग की बेवसाइट http://uppsc.up.nic.in/ पर देख सकते हैं.

30 मार्च 2019 को घोषित किया गया था प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम

PCS और ACF/RFO की प्रारंभिक परीक्षा 28 अक्तूबर 2018 को हुई थी. यह पहला मौका था जब यह सभी परीक्षाएं एक साथ करवाई गई थी. प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम 30 मार्च 2019 को घोषित किया गया था. 988 पदों के लिए 19096 अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा के लिए सफल घोषित किया गया था. उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने हाईकोर्ट के आदेश पर 5/10/2019 को प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम में बदलाव करते हुए, उत्तर प्रदेश के बाहर की 160 महिला अभ्यर्थियों को भी मुख्य परीक्षा के लिए सफल किया था. मुख्य परीक्षा 18-22 अक्टूबर 2019 तक प्रयागराज और लखनऊ में हुई थी, जिसमें 16738 परीक्षार्थी शामिल हुए थे