केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर का इस्तीफा मंजूर, तोमर को मिला अतिरिक्त प्रभार

Last Updated on September 18, 2020 by Shiv Nath Hari

Union minister Harsimrat Kaur's resignation accepted, Tomar gets additional charge
Union minister Harsimrat Kaur’s resignation accepted, Tomar gets additional charge

नई दिल्ली: पीएम मोदी से सलाह के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है. लोकसभा में तीन कृषि बिलों को पारित कराए जाने से नाराज हरसिमरत ने गुरुवार को मंत्रिपद से इस्तीफा दे दिया था. राष्ट्रपति ने केंद्रीय मंत्री परिषद से हरसिमरत का इस्तीफा संविधान के अनुच्छेद 75 के खंड (2) के तहत स्वीकार किया है. प्रधानमंत्री द्वारा सलाह-मशविरा के बाद राष्ट्रपति ने कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है.

विधेयकों पर सत्तारूढ़ राजग में फूट पड़ गई: कृषि संबंधी तीन अध्यादेशों को कानूनी जामा पहनाने संबंधी विधेयकों पर सत्तारूढ़ राजग में फूट पड़ गई है. विधेयक से जुड़े प्रावधानों पर नाराजगी जताते हुए केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कल मोदी मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था. इससे पहले लोकसभा में विधेयकों पर चर्चा के दौरान पार्टी अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने उनके इस्तीफे की घोषणा की थी. हालांकि उन्होंने कहा कि पार्टी एनडीए सरकार को समर्थन जारी रखेगी.

इस्तीफे की जानकारी हरसिमरत कौर बादल ने ट्वीट कर दी: बता दें कि मोदी कैबिनेट से अपने इस्तीफे की जानकारी हरसिमरत कौर बादल ने ट्वीट कर दी थी. अपने ट्वीट में उन्होंने कहा कि मैंने किसान विरोधी अध्यादेशों और कानून के विरोध में केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है. किसानों के साथ उनकी बेटी और बहन के रूप में खड़े होने का गर्व है. हरसिमरत कौर बादल केंद्रीय खाद्य एवं प्रसंस्करण उद्योग मंत्री थीं. यह फैसला इसलिए लिया गया क्योंकि बीजेपी की सहयोगी शिरोमणि अकाली दल अध्यादेश का विरोध कर रही है.