विदाई में भाई को अकेला देख दुल्हन की आंख से टपके आंसू

Last Updated on May 2, 2020 by Shiv Nath Hari

  • विदाई में भाई को अकेला देख दुल्हन की आंख से टपके आंसू
  • दुल्हा-दुल्हन सहित पांच जने हुए शामिल
  • लुपिन ने दिलाई लाॅकडाउन की शपथ
  • बिन माता-पिता की बेटी हुई शादि
  • सोशल डिस्टेंस व लाॅकडाउन की पालना
Tears dripping from bride's eye to see brother alone
Tears dripping from bride’s eye to see brother alone

हलैना-(भरतपुर) गांव नगला धरसौनी-अजीतनगर में बिन माता-पिता की बेटी की शादि में ना बराती ना ही घराती और रिस्तेदार,शादि में शामिल हुए दुल्हन व उसका भाई तथा दुल्हा,पण्डित एवं शादि का विचैलिया ही हुए। दुल्हन-दुल्हा सहित दोनो पक्ष के परिजन व रिस्तेदारों ने वैर उपखण्ड प्रशासन से शादि की स्वीकृति लेकर शादि की,जिसमें सोशल डिस्टेंस व लाॅकडाउन की पालना की गई।

वैर के उपखण्ड अधिकारी अमित कुमार वर्मा ने बताया कि गांव नगला धरसौनी निवासी हरवीरसिंह पुत्र देवकीनन्दन तथा गांव नगला धरसौनी-अजीतनगर निवासी सत्यभान पुत्र स्व.भगवानसिंह ने 2 मई को हरवीरसिंह एवं अनसुईयां की शादि की स्वीकृति मांगी,प्रशासने दोनो पक्ष से दुल्हा-दुल्हन सहित पाचं जने शामिल होने की स्वीकृति प्रदान की गई।

शादि के दिन ग्राम पंचायत धरसौनी के सरपचं रोहितसिंह,ग्राम विकास अधिकारी होरीलाल व हल्का पटवारी को शादि स्थल पर तैनात कर दिया। उन्होने बताया कि 2 मई को दुल्हा हरवीरसिंह तथा दुल्हन अनसुईयां की दिन में शादि हो गई,जिसमें दुल्हा-दुल्हन सहित पाचं जने शादि में शामिल हुए।

दुल्हन के भाई सत्यभानसिंह ने बताया कि माता-पिता की मृत्यु के बाद स्वयं सहित पांच बहिन एवं तीन भाई की देखभाल की और कोविड-19 महामारी तथा लाॅकडाउन को मददेनजर सबसे छोटी बहिन अनसुईयां की शादि में मेरे अलावा परिवार का कोई भी सदस्य एवं रिस्तेदार शामिल नही हुए,बहिन की अकेला ही विदाई करनी पडी,बहिन की शादि के बाद दूरभाष पर परिवार एवं रिस्तेदारों ने बहिन अनसुईयां को बधाई दी।

दुल्हा हरवीरसिंह ने बताया कि बरात में दुल्हा व पण्डित सहित तीन जने शामिल हुए। दुल्हन पक्ष से दुल्हन व उसका भाई शामिल हुए। दुल्हन अनसुईयां एवं दुल्हा हरवीरसिंह ने बताया कि शादि में सोशल डिस्टेंस व लाॅकडाउन की पालना की गई,मुख पर मास्क लगाया और सवा मीटर की दूरी बनाए शादि की रस्म अदा की। उन्होने आमजन से सोशल डिस्टेंस व लाॅकडाउन की पालना करने की अपील की और प्रशासन व पुलिस का सहयोग करने का संकल्प लिया।

दुल्हन व दुल्हा पक्ष के परिजन एवं रिस्तेदारों सहित मित्रगणों ने दूरभाष पर ही शादि की बधाई दी,बधाई देने वालों में वैर उपखण्ड अधिकारी अमित कुमार वर्मा,लुपिन फाउन्डेशन के अधिशासी निदेशक सीताराम गुप्ता,धरसौनी सरपचं रोहितसिंह,शिक्षाविद्व सुरेशसिंह फौजदार,राजवीरसिंह आदि ने रहे।

दुल्हन अनसुईयां ने शादि की रस्म अदा होते ही विदाई के वक्त कहा कि भईयां सत्यवीर लाॅकडाउन की पालना करना और सोशल डिस्टेंस बनाए रखना।

हलैना से विष्णु मित्तल