बच्चों के सर्वांगीण विकास में अध्यापकों और अभिभावकों बराबर की जिम्मेदारी – डॉ दिपाली

Last Updated on July 18, 2020 by Shiv Nath Hari

बच्चों के सर्वांगीण विकास में अध्यापकों और अभिभावकों बराबर की जिम्मेदारी – डॉ दिपाली

Photo, Development Officer Dr. Dipali Sharma speaking at the Teacher Parent Meeting in village Veedham of Deeg

फोटो डीग के गांव वेढम में अध्यापक अभिभावक बैठक में बोलते हुए विकास अधिकारी डॉ दिपाली शर्मा

डीग- 18 जुलाई डीग उपखंड के गांव बेढ़म के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में शनिवार को पंचायत समिति की विकास अधिकारी दिपाली शर्मा के मुख्य आतिथ्य एवं विद्यालय के प्रधानाचार्य राजेंद्र प्रसाद शर्मा की अध्यक्षता में अध्यापक अभिभावक की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में मुख्य अतिथि विकास अधिकारी शर्मा ने बोलते हुए कहा कि बच्चों पर अभिभावकों को विशेष ध्यान देना होगा जिसमें बच्चों की पढ़ाई के साथ अन्य गतिविधिया है जैसे बच्चा किस विषय में कमजोर है या उसकी संगत गलत बच्चों के साथ तो नहीं है आदि इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए विद्यालय के अध्यापकों से संवाद कायम रखें।

उन्होंने कहा कि बच्चों के सर्वांगीण विकास में जितनी जिम्मेदारी अध्यापकों की है उतनी ही अभिभावकों की भी है। इस मौके पर प्रधानाचार्य शर्मा ने कहा कि 10 जुलाई को ग्राम पंचायत में लगी नरेगा की लेवर व अध्यापकों तथा छात्रों के सहयोग से विद्यालय परिसर में 100 पौधे लगाए गए हैं साथ ही विद्यालय में नामांकन बढ़ाने के लिए भी हमारे प्रयास जारी हैं उम्मीद है 20 जुलाई तक यह कार्य हम पूरा कर लेंगे। इस मौके पर विद्यालय स्टाफ सहित अभिभावक मौजूद रहे। इसी क्रम में कस्बे के किशन लाल जोशी सीनियर सेकेंडरी स्कूल में भी अभिभावक अध्यापक मीटिंग का आयोजन पार्षद प्रतिनिधि महावीर सिंह ने की विद्यालय के प्रधानाचार्य गोपाल प्रसाद शर्मा कार्यक्रम के अध्यक्षता थे। विशिष्ट अतिथि के रूप में नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी मनीष शर्मा भी इस कार्यक्रम में मौजूद रहे। आपको बता दें जिला कलेक्टर के निर्देश पर शनिवार को उपखंड के सभी राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालयों में अभिभावक अध्यापक मीटिंग का आयोजन हुआ है जिसमें विद्यालयों में पौधारोपण के साथ नामांकन बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं।