ग्राम सभाओं में ग्रामीणों को कोरोना वायरस से बचने के बताये उपाय

Last Updated on March 8, 2020 by Shiv Nath Hari

ग्राम सभाओं में ग्रामीणों को कोरोना वायरस से बचने के बताये उपाय

Measures to be given to villagers to avoid Corona virus in Gram Sabhas
Measures to be given to villagers to avoid Corona virus in Gram Sabhas

भरतपुर, 08 मार्च। जिले में कोरोना वायरस की रोकथाम व आमजन को जागरूक करने के लिये रविवार को अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर ग्राम पंचायत स्तर पर आयोजित विशेष ग्राम सभाओं में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्रचार-प्रसार अभियान चलाया गया।


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. कप्तान सिंह ने बताया कि ग्राम पंयायतों पर होने वाली ग्रामसभाओं में एएनएम व आशा सहयोगिनियों ने ग्रामीणों को कोरोना वायरस के रोकथाम के संबंध में जागरूक किया। सीएमएचओ ने बताया कि ग्रामसभा में जनप्रतिनिधियों के अलावा ग्रामीणों को पंपलेट का भी वितरण किया गया। इसके अलावा भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचने के बारे में बताया गया। उन्होंने बताया कि जिले के सार्वजनिक स्थलों, रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड व अन्य संस्थानों में आमजन को जागरूक करने के लिए पंपलेट के माध्यम से कोरोना वायरस से बचाव की जानकारी दी जा रही है।

घर-घर भम्रण अभियान के माध्यम से लोगों को किया जायेगा जागरूक–

आरसीएचओ ने बताया कि आशा सहयोगिनी व एएनएम ग्राम व शहरी वार्ड में गृह भ्रमण के लिये जाने के दौरान भी आमजन को कोरोना वायरस रोकथाम व नियंत्रण की जानकारी देंगी। उन्होंने बताया कि रेलवे स्टेशन, कलेक्ट्रेट परिसर, जिला अस्पताल सहित सार्वजनिक स्थान व विदेशी पर्यटक आने वाले स्थानों पर कोरोना वायरस की जागरूकता के लिये प्रचार-प्रसार किया जा रहा है।

इसके अलावा होटल संचालकों को भी बताया गया है कि होटलों में आने वाले विदेशी पर्यटकों व जिले में विदेश से आने वाले लोगों के संबंध में सूचना चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को दें। इसके अलावा खांसी, जुकाम व बुखार पीड़ित विदेशी पर्यटक होने पर उसकी जांच चिकित्सा टीम की ओर से किये जाने के निर्देश दिये है। चिकित्सा विभाग की ओर से प्रतिदिन खांसी, जुकाम व बुखार के मरीज के संबंध में चिकित्सा टीमों के द्वारा जांच कर लगातार माॅनिटरिंग भी की जा रही है। भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने सहित अन्य जानकारी के लिये जिला प्रशासन की ओर से भी जिले में एडवाइजरी भी जारी की गई है


सीएमएचओ ने बताया कि कोरोना वायरस के प्रति विभाग सावचेत है और इससे जागरूकता और यात्रियों की स्क्रीनिंग को लेकर पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस से घबराने की आवश्यकता नहीं है। आवश्यकता केवल सतर्क और जागरूक रहने की है। इसके लिए किसी बीमार, जुकाम, निमोनिया ग्रस्त व्यक्ति के सम्पर्क से बचे. अपनी आँखों, नाक और मुँह को बार-बार ना छुएं। साथ ही हाथों को बार-बार साबुन से धोएं। कोरोना वायरस के लक्षण साधारण सर्दी-जुकाम के लक्षणों से मिलते जुलते हैं। इसमे नाक बहना, खाँसी, गले मे खराश, सिरदर्द, साँस लेने में तकलीफ और बुखार जैसे लक्षण उभरते हैं। ऐसी स्थिति में स्वयं उपचार नहीं लेकर चिकित्सक की सलाह से उपचार लें. साथ ही खाँसते, छींकते समय टिश्यू व रुमाल का उपयोग करें।

उन्होंने बताया कि लक्षण पाए जाने पर लापरवाही नहीं बरते बल्कि उपचार के लिए तत्काल नजदीकी राजकीय चिकित्सालय में संपर्क करें या टोल फ्री नम्बर नेशनल कोल सेंटर ़91-11-23978046 टोल फ्री हैल्पलाइन नंबर 104 व 108, स्टेट कंट्रोल रूम नंबर 0141-2225624 पर सम्पर्क कर सकते हैं।

Leave a Comment