कोरोना वायरस से बचाव के लिए जीवनशैली में बदलाव जरूरी- डाॅ. भूदेव शर्मा

Last Updated on June 16, 2020 by Shiv Nath Hari

कोरोना वायरस से बचाव के लिए जीवनशैली में बदलाव जरूरी- डाॅ. भूदेव शर्मा

Lifestyle changes necessary to prevent corona virus - Dr. Bhudev Sharma

भरतपुर (16.6.2020) आमजन को कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूक करने हेतु आयुर्वेद विभागीय काढा वितरण टीम द्वारा राजकीय आयुर्वेदिक रसायनशाला में कोरोना की रोकथाम में जीवन शैली की भूमिका विषय पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया।

संगोष्ठी में मुख्य अतिथि आयुर्वेद विभाग संभाग भरतपुर के अतिरिक्त निदेशक डाॅ. भूदेव शर्मा ने कहा कि स्वस्थ रहने और कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए अब कोरोना की प्रकृति केे हिसाब से जीवनशैली में बदलाव लाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को अपनी पहली आदतों में शीघ्र बदलाव कर मास्क लगाने, सेनेटाइजेशन करने एवं सोशल डिस्टेसिंग के साथ-2 समय पर पौष्टिक आहार लेना अत्यन्त आवश्यक है तभी आमजन इसके संक्रमण से बच सकेगा और स्वस्थ रह पायेगा।

इस अवसर पर कार्यक्रम समन्वयक एवं टीम प्रभारी वरिष्ठ आयुर्वेद चिकित्सक डाॅ. चन्द्रप्रकाश दीक्षित द्वारा स्वच्छता के लिए बार-2 साबुन से हाथ धोने, अनावश्यक घर से बाहर न निकलने एवं बच्चों और बुजुर्ग, और जिन महिला व पुरूषों को डायविटीज और हृदय रोग है उनकी उचित देखभाल के महत्व पर प्रकाश डाला गया। उन्होंने स्वस्थ रहने के लिए घरपर दैनिक योग व्यायाम के साथ-2 गिलोय, तुलसी अदरक, मुनक्का, दालचीनी का काढा बनाकर पीने के साथ-2 हल्दी युक्त दूध पीने की बात कही।

इस अवसर पर रसायनशाला प्रबन्धक डाॅ. सुशील पाराशर उप निदेशक डाॅ. निरंजनसिंह सहायक निदेशक, डाॅ. संजीव तिवारी द्वारा भी आमजन को कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए बताए गए निर्देशों को अमल में लाए लाने की सलाह दी। अतिथियों द्वारा कोरोना व्यक्तियों के लिए पिलाए जाने वाले काढे की निर्माण व्यवस्था का भी निरीक्षण किया गया एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।

संगोष्ठी में डाॅ. महेश लवानियां, डाॅ. भूपेन्द्र चंदेला, डाॅ. लक्ष्मी नारायन, डाॅ. रविन्द्र गर्ग, डाॅ. शैलेश शर्मा, डाॅ. दिलीप तिवारी, डाॅ. प्रेम सिंह, मेलनर्स दिनेश शर्मा, रामवीर सिंह, सुनील, बलराम शर्मा, नरेन्द्र सिंह, विमल चंद, रूप सिंह ने भाग लिया। अंत में रसायनशाला प्रभारी डाॅ. रमेश द्वारा सभी का आभार व्यक्त किया।