Jaipur News: हर कदम पर आगे है जिला प्रशासन के कोरोना वॉरियर्स

Last Updated on May 5, 2020 by Shiv Nath Hari

Jaipur News: हर कदम पर आगे है जिला प्रशासन के कोरोना वॉरियर्स

Jaipur News: Corona Warriors of District Administration are ahead at every step
जिला कलक्टर रौ जितनों धन्यवाद दैय्या उतनों कम छैः म्हारी मदद करण वास्ते

Jaipur News: जयपुर, 5 मई। कोरोना महामारी के संकट के समय जहां डॉक्टर,पुलिस जैसे कोराना वॉरियर फ्रंट पर आकर कार्य कर रहे हैं वही जिला प्रशासन का वॉर-रूम न केवल राशन,भोजन तक की समस्याओं के समाधान तक सीमित है बल्कि बिजली,पानी,पशुपालन,चिकित्सा के सम्बन्ध में आ रही विभिन्न समस्याओं के समाधान में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन कर रहा है।

जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम पर दिनभर में भोजन,राशन,पानी से संबंधित सैकड़ों कॉल प्राप्त हो रही है जिसका जिला प्रशासन के कोराना वॉरियर्स द्वारा मौके पर जाकर  समाधान किया जाता है। जिला प्रशासन ने रसद,चिकित्सा,नगर निगम पानी,बिजली,पशुपालन से संबंधित प्राप्त विभिन्न शिकायतों में से अब तक 12000 से भी ज्यादा समस्याओं का निस्तारण करने में सफलता प्राप्त की है। हाल ही के दिनों में कुछ ऎसे ही उदाहरण सामने आए हैं।

सवेरे 4 बजे तक साइट पर रहकर दुरूस्त करवाया पाइप लाइन का लीकेज

चारदीवारी के अन्तर्गत जिला प्रशासन चिन्हित स्थानों रामगंज, बडी चौपड़,छोटी चौपड,त्रिपोलिया,जलेब चौक़ पर पेयजन की मांग किये जाने पर तुरन्त सभी स्थानों पर पेयजल टैंकरो द्वारा पेयजल व्यवस्था के संधारण व संचालन को सुचारू रूप से रखने के लिए इस विषम परिस्थिति में कार्यशील है। अधिशाषी अभियन्ता (ग्रामीण) विश्वजीत नागर ने बताया की जयसिंहपुराखोर में पाइप लाइन लीकेज की समस्या जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम द्वारा प्राप्त हुई, फील्ड अधिकारियों द्वारा तुरन्त संज्ञान लेते हुए अविलम्ब लीकेज ठीक करने की कार्यवाही शुरू की गई जो अगले दिन सुबह 4 बजे तक ठीक हो पायी इस कार्य में उनकी टीम सहायक अभियन्ता श्री अतुल शर्मा, कनिष्ठ अभियन्ता प्रीती ने तकनीकी कर्मचारियों के साथ पूरी रात साइट पर खडे होकर पाइप लाइन लीकेज को दुरूस्त करवाया।

जिला कलक्टर रौ जितनों धन्यवाद दैय्या उतनों कम छैः म्हारी मदद करण वास्ते

पुरानी बस्ती निवासी  65 वर्षीय दृष्टिहीन बुर्जुग अपनी पत्नी व दो बच्चो के साथ रहते हैं,बुर्जुग की पत्नी भी दृष्टिहीन है, वे विकलांग स्कुल में पढाकर किसी तरह घर का गुजर-बसर करते है, लॉकडाउन की लम्बी अवधि में घर का बचा हुआ राशन भी धीरे-धीरे खत्म हो गया दृष्टिहीन होने से जीवन पहले ही कठिन था,ऊपर से लॉकडाउन की लम्बी अवधि ने उसे और कठोरत बना दिया।उन्होंने अपने पड़ोसियों से समस्या को साझा की तो पड़ोसियों ने जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम पर फोन किया जिला प्रशासन ने तत्परता दिखाते हुये दृष्टिहीन दम्पति तक सूखा राशन पंहुचाया, जिला प्रशासनकी सक्रियता को देखकर दम्पति ने धन्यवाद दिया और कहा की जिला कलक्टर रौ जितनों धन्यवाद दैय्या उतनों कम छैः म्हारी मदद करण वास्ते ।