जय हिन्द तेरी जुबां पर हिंदी ख़ुशबू बन कर महक रही है हिंदी शिक्षण भवन संस्थान द्वारा मनाया गया हिंदी दिवस

Last Updated on September 14, 2020 by Shiv Nath Hari

जय हिन्द तेरी जुबां पर हिंदी ख़ुशबू बन कर महक रही है हिंदी शिक्षण भवन संस्थान द्वारा मनाया गया हिंदी दिवस

Jai Hind Teri Juban is smelling of Hindi smelling Hindi Day celebrated by Hindi Shikshan Bhavan Institute
Hindi Day celebrated by Hindi Shikshan Bhavan Institute

हिंदी शिक्षण भवन संस्थान के तत्वावधान में हिंदी दिवस कोरोना की गाइड लाइन को ध्यान रखते हुए मनाया गया । कार्यक्रम की शुरुआत सर्वप्रथम मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण तथा सरस्वती वंदना से की गई ।
कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए वैभव उपमन ने कहा कि हिंदी भाषा सभी भारतवासियों को एकता के सूत्र में जोड़ती है उपमन ने काव्य पंक्तियां सुनाते हुए कहा कि जय हिन्द तेरी जुबां पर हिंदी खुशबू बन कर महक रही है तथा भारत मां के भाल पर सजी स्वर्णिम बिंदी हूं , में भारत की बेटी आपकी हिंदी हूं काव्य पंक्तियां सुनाई , शिक्षा विभाग के पी ई ई ओ डॉ. शिवकुमार सैन ने हिंदी दिवस के बारे में बताया कि 14 सितंबर 1949 को संविधान सभा द्वारा हिंदी को राजभाषा का दर्जा दिया गया , सन 1953 से 14 सितंबर के दिन हिंदी दिवस मानने की शुरुआत हुई सभी भारतवासियों को गर्व होना चाहिए कि हिंदी पूरे विश्व में चोथी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है

कार्यक्रम में अध्यापक डॉ. रवि शर्मा ने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि हिंदी को बोलने में शर्म महसूस नहीं करनी चाहिए क्योंकि हिंदी मात्र एक भाषा नहीं है हिन्दी एक विचार है हिन्दी भाषा सभी जनों की मां है और उस हिंदी मां के वर्चस्व को फैलाना सभी भारतवासियों का कर्तव्य है कार्यक्रम में अध्यपक अनीश तिवारी ने कहा कि मातृ भाषा की खूबसूरती का सम्मान हम सभी को एक ख़ास दिवस नहीं अपितु वर्षभर करते रहना चाहिए , दिनेश उपाध्याय ने जब भी हिंदी को मैने मांगा प्रभु दे दिया मुझको ये वरदान है ,इतनी ममतामई इतनी करुणामई हिंदी भाषा नहीं एक अहसास है गाकर सुनाई । कार्यक्रम का संचालन अध्यपिका अनीता ने किया

इस अवसर पर अनीश तिवारी , मनु प्रकाश शर्मा , वरिष्ठ अध्यापिका सुरभि शर्मा , स्वाति दीक्षित , विवेक शर्मा , दीपक सैन , तेजसिंह मीणा , प्रेम सिंह राजपूत , बबीता , मनीष शर्मा , नंद किशोर शर्मा , पुनीत शर्मा आदि उपस्थित थे ।