Hindi News Rajasthan

Hindi News Rajasthan: उद्योग मंत्री ने दौसा जिले कें ओलावृष्टि प्रभावित क्षेत्रों का लिया जायजा|

Advertisement

Last Updated on March 5, 2020 by Shiv Nath Hari

Hindi News Rajasthan: उद्योग मंत्री ने दौसा जिले कें ओलावृष्टि प्रभावित क्षेत्रों का लिया जायजा|
Advertisement
Advertisement

  • उद्योग मंत्री ने दौसा जिले कें  ओलावृष्टि प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लिया
  • किसानों को बंधाया ढांढस, हर संभव मदद का भरोसा दिलाया
Hindi News Rajasthan: उद्योग मंत्री ने दौसा जिले कें  ओलावृष्टि प्रभावित क्षेत्रों का लिया जायजा|
Hindi News Rajasthan: उद्योग मंत्री ने दौसा जिले कें ओलावृष्टि प्रभावित क्षेत्रों का लिया जायजा|

Hindi News Rajasthan: जयपुर, 05 मार्च। उद्योग मंत्री श्री परसादी लाल मीना ने गुरूवार को दौसा जिले की तहसील लालसोट व रामगढ पचवारा क्षेत्र में बुधवार को हुई ओलावृष्टि का जायजा लिया तथा किसानों को फसलों में हुए उचित मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया। उद्योग मंत्री ने मौके पर उपस्थित उपखण्ड  अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, गिरदावरी, पटवारी सहित सभी राजस्व अधिकारियों एवं कर्मचारियों को निर्देश दिए कि ओलावृष्टि से प्रभावित गांवो में किसानो के घर-घर जाकर तीन दिन में गिरदावरी करावें ताकि किसानों को शीघ्रता से मुआवजा दिलवाया जा सकें। उन्हाेंने बताया कि ओलावृष्टि से क्षेत्र में किसानों की फसलों में 80 प्रतिशत से अधिक का खराबा हुआ है।

उद्योग मंत्री ने किसानों से कहा कि लालसोट व रामगढ पचवारा तहसील क्षेत्र में ओलावृष्टि में हुए फसलों के नुकसान के बारे में मुख्यमंत्री को अवगत कराने के साथ ही उचित मुआवजा दिलवानेे का प्रयास किया जाएगा। उन्हाेंने तहसील लालसोट क्षेत्र के ग्राम नालावास, गोकुलपुरा, रामसिंहपुरा व भारमल का बास में तथा तहसील रामगढ पचवारा के ग्राम गांगल्यावास, बिजलवास, डोबला खुर्द, बगीची व भोगतपुरा में ओलावृष्टि से किसानों की फसल का हुए नुकसान का खेतोंं में जाकर जायजा लिया तथा पीडित किसानों को उचित मुआवजा दिलवाने का भरोसा दिलवाया।

उन्हाेंने केन्द्रीय सहकारी बैंक व अन्य बैंको द्वारा किसानों की फसलों के हुए बीमें के बारे में अवगत कराते हुए बीमा कम्पनियों से सम्पर्क कर सर्वे कराने एवं नियमानुसार उचित मुआवजा दिलवाने के लिए उपखण्ड अधिकारी एवं तहसीलदार को निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान किसानों ने ओलावृष्टि से प्रभावित क्षेत्रें में बिजली के बिल माफ करवाने, केसीसी का ब्याज माफ करवाने, सहकारी ऋण राशि माफ करवाने की मांग की। किसानों ने उद्योग मंत्री को बताया कि कई किसानों के खेतों में 90 प्रतिशत से अधिक खराबा हो गया है। इस फसल से किसानों के खाद बीज का भरण पोषण होना भी मुश्किल है। उन्हाेंने बताया कि कई किसानों के घरों में कल से आज तक चुल्हे भी नही जले है तथा कई किसान व महिलाऎं फसलों में अधिक नुकसान हो जाने के कारण सदमें में है।

इस पर उद्योग मंत्री ने किसानों को ढांढस बंधाते हुए भरोसा दिलाया कि राज्य सरकार द्वारा जो भी सुविधाऎं ओलावृष्टि से पीडित किसानों को दी जा सकेगी उसे दिलाए जाने का प्रयास किया जाएगा। इस अवसर पर स्थानीय जन प्रतिनिधि संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

Advertisement
Advertisement

Leave a Comment