कोरोना वायरस से बचाव एवं रोकथाम के लिए एक्शन प्लान पर कलेक्टर ने ली जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक

Last Updated on March 17, 2020 by Shiv Nath Hari

  • कोरोना वायरस से बचाव एवं रोकथाम के लिए एक्शन प्लान पर कलेक्टर ने ली जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक
  • स्कूलों के अलावा कोचिंग संस्थान भी बन्द, रोडवेज बसों में सेनिटाइजेशन,
  • मास्क-सेनिटाइजर की कालाबाजारी और मुनाफाखोरों पर होगी सख्त कार्रवाई
Collector took meeting of district level officials on action plan for prevention and prevention of corona virus
Collector took meeting of district level officials on action plan for prevention and prevention of corona virus

भरतपुर, 17 मार्च। जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में सभी जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठक कर कोरोना वायरस के सम्बन्ध में एक्शन प्लान पर विस्तृत चर्चा की। जिला कलक्टर ने इस अवसर पर कहा कि चीन, इटली, ईरान जैसे देशों में कोरोना वायरस से फैलने वाली बीमारी कोविड-19 ने जो तबाही मचाई है, उसे देखते हुए राज्य सरकार से प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुरूप प्रशासन ने इससे बचाव और रोकथाम की व्यापक तैयारी की है।

जिला कलक्टर ने इस दौरान जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि सभी सरकारी एवं निजी स्कूलों के साथ-साथ कोचिंग संस्थानों को भी अगले आदेश तक बन्द रखा जाए और इन आदेशों की अवहेलना करने वालों पर नियमानुसार कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि जिम एवं व्यायामशालाएं बन्द रखने के आदेश पहले ही जारी किए जा चुके हैं। मॉल एवं बाजारों में पैम्फलेट, पोस्टर एवं बैनरों के माध्यम से कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के तरीकों का प्रचार-प्रसार किया जाए। लोग एहतियात बरतते हुए भीड़-भाड़ वाले स्थानों, सामाजिक समारोह, आयोजनों, मेलों आदि में जाने से बचें।

रोडवेज बसें की जा रही सेनिटाइज

बैठक के दौरान भरतपुर डिपो मुख्य प्रबन्धक ने अवगत कराया कि बसों की कीटाणुनाशक लिक्विड युक्त पानी से धुलाई करवाई जा रही है और सीटों तथा रेलिंग पर सेनिटाइजर का स्प्रे किया जा रहा है। इस पर जिला कलक्टर ने ब्रज विश्वविद्यालय प्रशासन को भी निर्देश दिए कि परीक्षाएं दे रहे छात्र-छात्राओं के आवागमन के लिए उपयोग की जा रही बसों को सैनिटाइज किया जाए। पहचान पत्र जांचते समय परीक्षार्थियों में पर्याप्त दूरी बनाए रखें और अवकाश के समय एक-एक क्लास को बारी-बारी से छोड़ा जाए ताकि भीड़ इकट्ठी न हो।

जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि सरकारी अधिकारी-कर्मचारी भी बैठकों के दौरान एवं कार्यालय परिसर में सेनिटाइजर का इस्तेमाल करें। ऐसी बैठकों और कार्यशालाओं से बचा जाए जिनमें अधिक संख्या में अधिकारी-कर्मचारियों को शामिल होना हो।

मंदिरों में कीटाणुनाशक लिक्विड से पोंछा  

जिला कलक्टर ने देवस्थान विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि मंदिर प्रांगणों में कीटाणुनाशक लिक्विड का पोंछा लगवाया जाए और रेलिंग इत्यादि को सेनिटाइज किया जाए। उन्होंने मंदिर श्री कैला देवी जी झील का बाड़ा बयाना में 23 मार्च से आरम्भ होने जा रहे चैत्र नवरात्रा मेले में श्रद्धालुओं की अधिक भीड़ एक साथ इकट्ठी न हो, इसके लिए जरूरी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं को मेला क्षेत्र में एवं मंदिर में मुंह पर मास्क लगाकर आने के लिए जागरुक किया जाए। मेले में स्वच्छता का विशेष ध्यान रखें।

उन्होंने कहा कि लोग सावधानी बरतते हुए सप्तमी, अष्टमी, नवमी एवं रविवार के बजाय सामान्य दिनों में दर्शन करें ताकि भीड़ से बचा जा सके।


जिला कलक्टर ने कहा कि मास्क एवं सेनिटाइजर को आवश्यक वस्तुओं की सूची में शामिल कर लिया गया है। उन्होंने निर्देश दिए कि जिले में छापे मारकर मास्क एवं हैंड सैनिटाइजर की मनमानी कीमतें वसूलने, कालाबाजारी एवं अवैध भण्डारण करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाए।


बैठक में राजकीय आयुर्वेद चिकित्सक डॉ. चन्द्र प्रकाश दीक्षित ने बताया कि आयुर्वेद विभाग द्वारा आमजन की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए मंगलवार को विभिन्न स्थानों पर शिविर लगाकर करीब छह हजार लोगों को आयुर्वेदिक काढ़ा निःशुल्क पिलाया गया।

कलेक्ट्रेट में मास्क एवं काढ़ा वितरण बुधवार सुबह सवा दस बजे

जिला कलक्टर के निर्देश पर कलक्ट्रेट परिसर स्थित पार्क में बुधवार सुबह सवा दस बजे चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से मास्क वितरण किया जाएगा। साथ ही, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आयुर्वेद विभाग की ओर से औषधीय काढ़ा भी पिलाया जाएगा।