Deeg News: हथियार बनाने की फैक्ट्री के मामले में करीब 9 साल से फरार चल रहा इनामी बदमाश गिरफ्तार

Last Updated on September 22, 2020 by Shiv Nath Hari

Deeg News: हथियार बनाने की फैक्ट्री के मामले में करीब 9 साल से फरार चल रहा इनामी बदमाश गिरफ्तार

Deeg News: In the case of the arms factory, the prize crook, who has been absconding for nearly 9 years, arrested
file photo

डीग 22 सितम्बर -डीग थाना पुलिस ने मंगलवार को अवैध हथियार बनाने की फैक्ट्री के मामले में पिछले 9 साल से फरार चल रहे एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

थाना प्रभारी गणपत राम के अनुसार गिरफ्तार आरोपित साहुण 37 वर्ष पुत्र रज्जाक मेंव गांव विशंभरा थाना शेरगढ़ जिला मथुरा उत्तर प्रदेश का निवासी है। जिसकी गिरफ्तारी पर भरतपुर जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा 3 हजार रुपए का इनाम घोषित है।

क्या था मामला– थाना अधिकारी गणपत राम ने बताया कि 19 जून 2011 को तत्कालीन थानाधिकारी आसाराम मय जाप्ता यतेंद्र कुमार, दूल्हे राम, लेखन सिंह, प्रीतम सिंह, महेंद्र सिंह, समंदर सिंह,उदय सिंह,घनेन्द्र सिंह, वीरेंद्र सिंह माधों सिंह,विजय सिंह जी जीप सरकारी चालक जगदीश सिंह प्राइवेट वाहन से मुखबिर की सूचना पर गांव भीलमका के जंगल दाएं तरफ नहर के पास खेत में त्रिपाल की झोपड़ीनुमा से करीब 100 मीटर पहले पहुंचे ।


इसदौरान पुलिस की गाड़ी को देखकर साहुन, मोरमल जाति मेव एवं इन्ही के गांव के तीन चार आदमी व इनके 2, 3 रिश्तेदार हरियाणा जो हरियाणा के थे झोपड़ी पर अवैध हथियार बना रहे थे भाग गए। जिनका काफी पीछा किया मगर भागने में सफल हो गए। झोपड़ी त्रिपालनुमा की तलाशी ली गई तो उक्त स्थान पर अवैध हथियार बनाने का कारोबार चल रहा था।

पुलिस ने उक्त स्थान पर छह शिकंजा लोहे के तीन डब्बा जिसमें अर्ध निर्मित हथियार भरे हुए थे। एक डब्बा लोहा, जिसमें अर्ध निर्मित औजार तीन ड्रिल मशीन, तीन बॉडी लोहा, पूर्ण तथा 10 अर्ध निर्मित दो रोड़ , रेगमाल के छोटे-बड़े 8 टुकड़े, एक डब्बा लोहा जिसमें सात हथौड़ी छोटी व बड़ी , एक प्लास्टिक डब्बा ढाई लोहे की तथा सात छोटे बड़े डिब्बे से निर्मित व अर्द्ध निर्मित औजार भरे हुए थे। एक डब्बा लोहा जिसमें डाई लोहा जिसमें 9 छोटी बड़ी दो फीता ,एक डील रोड 15 ,3 प्लास, चार चाबी नट खोलने व जोड़ने की। तीन प्रकार के चार डिब्बे प्लास्टिक अर्द्ध निर्मित औजार भरे हुए थे। एक डिब्बा प्लास्टिक जिसमें चार खाली कारतूस 12 वोर,8 कारतूस खाली 315 बोर, खाली कारतूस 9एम एम 3 खाली कारतूस बोर नापने वाले चले हुए एक जिंदा कारतूस मस्कट दो बुलट कारतूस एक डब्बा खाली प्लास्टिक 12डिब्बें प्लास्टिक जिसमें एक डिब्बें में फनर,77छोटे -बड़े चार डिब्बें प्लास्टिक जिनमें रेती छोटी व बड़ी 52,7खाली डिब्बें ,एक धौकनी,बैरल लोहा 12छोटी बड़ी,5बैरल 315बोर,6आरी छोटी बड़ी,हत्था लकड़ी सहित 5संड़ासी लोहा,3लकड़ी बन्दूक बट जिनमें एक बट में बोडी लगी हुई,1कट्टा 315बोर तथा 1लोहे का टुकड़ा जिसमें वजन करीब 10किलो लकड़ी के 14टुकड़े मिले।पुलिस ने धारा 3,5/25आम्रस एक्ट में कायम किया था ।