Deeg News: कासोंट में डोर टू डोर सर्वे कर कोराना संक्रमित महिला के संपर्क में आए लोगों की पहचान करने में जुटे हैं 36 स्वास्थ्य कर्मी

Last Updated on April 25, 2020 by Shiv Nath Hari

Deeg News: कासोंट में डोर टू डोर सर्वे कर कोराना संक्रमित महिला के संपर्क में आए लोगों की पहचान करने में जुटे हैं 36 स्वास्थ्य कर्मी

Deeg News: कासोंट में डोर टू डोर सर्वे कर कोराना संक्रमित महिला के संपर्क में आए लोगों की पहचान करने में जुटे हैं 36 स्वास्थ्य कर्मी
Deeg News: कासोंट में डोर टू डोर सर्वे कर कोराना संक्रमित महिला के संपर्क में आए लोगों की पहचान करने में जुटे हैं 36 स्वास्थ्य कर्मी

डीग -(25 अप्रैल) डीग के गांव कासोट में गुरुवार को एक कोरोना संक्रमित महिला रोगी पाए जाने के बाद से जिला कलेक्टर द्वारा लागू की गई जीरो मोबिलिटी के चलते समूचे गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है चिकित्सा विभाग की टीम के तीन दर्जन लोग गांव में दो टू डोर सर्वे कर उक्त महिला कि संपर्क में आए लोगों की पहचान करने में जुटे हुए है।

ग्राम पंचायत कासोंट के सरपंच मुन्ना सिंह ओर सेक्टर प्रभारी राजेन्द्र शर्मा के अनुसार गाव कासोंट में प्रवेश करने के सभी 7 कच्चे रास्तों को के प्रवेश स्थलों को जे सी वी से खुदवा कर उनमें होकर वाहनों का प्रवेश तथा वहा लोहे के पाइपों से वैरी केटिंग कर लोगो का आवागमन पूरी तरह बंद कर दिया गया है सभी प्रवेश स्थलों पर पुलिस के जवान पूरी मुस्तैदी से जमे रह कर हर आने जाने वाले लोगो पर नजर रखे हुए हैं तथा लोगो को घरों पर रहने के लिए लगातार जागरूक करने में जुटे हुए है।

विकास अधिकारी दीपाली शर्मा ने बताया है कि कोराना पीड़ित महिला के संपर्क में आए 37 जनों को जांच ओर कोरानटाईन के लिए भरतपुर भेजा जा चुका है जबकि 43 जनों को गांव अऊ केपास स्थित पी पी एल स्कूल में कवारंटीन किया गया है। गांव कासोंट में पीने के पानी की समस्या को देखते हुए जलदाय विभाग डीग के सहायक अभियंता को गांव में लगे आर आे के माध्यम से पीने का पानी शुरू कराने या फिर तत्काल टैंकरों के माध्यम से गांव के लोगो को पीने का पानी उपलब्ध कराने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।
गांव के लोगो को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए समूचे गांव में हाइपो सोडियम क्लोराइड का छिड़काव कराया जा रहा है।