विप्र फाउन्डेशन की जिला कार्यकारिणी का परिचय सम्मेलन आयोजित

Last Updated on September 3, 2020 by Shiv Nath Hari

Conference of district executive of Vipra Foundation organized

भरतपुर,03 सितम्बर| , विप्र फाउन्डेशन जोन 1-डी की जिला कार्यकारिणी भरतपुर का परिचय सम्मेलन जिलाध्यक्ष ताराचंद शर्मा की अध्यक्षता में किया गया। बैठक में सर्वप्रथम कार्यकारिणी के सदस्यों ने जिला प्रभारी के नेतृत्व में पेंशन भवन में पारिजात के पौधे लगाकर पौधारोपण किया। उसके बाद जिलाध्यक्ष की अध्यक्षता में बैठक की कार्यवाही शुरू की गई। सर्वप्रथम सभी कार्यकारिणी के सदस्यों का प्रदेश सचिव दयाचंद पचौरी, प्रदेश युवा अध्यक्ष इन्दूशेखर शर्मा एवं जिला युवा अध्यक्ष उमेश पाराशर द्वारा माला पहनाकर एवं तिलक लगाकर स्वागत सम्मान किया गया।

इसके बाद बैठक में उपाध्यक्ष महावीर खोंखर ने अपने विचार व्यक्त करते हुए आज हमको सामाजिक कुरीतियों के साथ-साथ अगर किसी ब्राहमण परिवार पर आपत्ति आती है तो सबसे पहले मैं तन-मन-धन से तैयार हूॅ। बैठक में योगेन्द्र सिंह उर्फ योगी नौगाया ने ब्राहमण एकता पर बल दिया। देवकी प्रसाद ने समाज हित में अपने विचार प्रकट किये एवं उत्थान के लिए उपाय सुझाये। हरचरनलाल ने गांव-गांव जाकर मीटिंग करने एवं समाज की समस्याओं के निराकरण की सलाह दी। छिददीमल द्वारा रसीद काटकर पैसा इकठ्ठा करने की सलाह दी और कहा कि बिना पैसे के कोई संगठन नहीं चलता है। कार्यकारिणी के सदस्यों के विचार एवं समस्या सुनने के बाद प्रदेश सचिव दयाचंद पचैरी ने समाज एकता के साथ साथ प्रोग्राम की भूरि भूरि प्रशंसा करते हुए कहा कि ऐसे प्रोग्राम होते रहने चाहियें जिससे समाज में अच्छा संदेश जाता है।

बैठक में जिलाध्यक्ष ताराचंद शर्मा के साथ साथ जिला प्रभारी दयाचंद पचौरी, इन्दूशेखर शर्मा, उमेश पाराशर मुख्य एवं विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। इनके अलावा महावीर सिंह खोंखर, योगेन्द्र सिंह, संतोष उपाध्याय बयाना, रामेश्वर प्रसाद नदबई, पंकज शर्मा रूपवास, हरीचरन अटारी, हेमराज शर्मा एडवोकेट, देवकी प्रसाद शर्मा, छिद्दीमल शर्मा, मोहन लाल तिवारी, मनोज कुमार शक्करपुर, ओमप्रकाश शर्मा पिचूना, जगदीश चिचाना, ईश्वरदेव शर्मा, रमेशचंद शर्मा, नगेन्द्र नग्गी मौजूद थे। अंत में जिलाध्यक्ष ताराचंद शर्मा द्वारा समस्त लोगों का सहयोग देने के लिए आग्रह किया एवं उपस्थित विप्रजनों का आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद दिया।