Bharatpur Panchayat Chunav 2020: चतुर्थ चरण मतदान के लिए रवाना हुई पोलिंग पार्टियां

Last Updated on March 14, 2020 by Shiv Nath Hari

Bharatpur Panchayat Chunav 2020: चतुर्थ चरण मतदान के लिए रवाना हुई पोलिंग पार्टियां

Bharatpur Panchayat Chunav 2020: चतुर्थ चरण मतदान के लिए रवाना हुई पोलिंग पार्टियां
Bharatpur Panchayat Chunav 2020: चतुर्थ चरण मतदान के लिए रवाना हुई पोलिंग पार्टियां

Bharatpur Panchayat Chunav 2020 भरतपुर, 14 मार्च। पंचायत राज के सरपंच एवं पंच पद के आम चुनाव-2020 के चतुर्थ चरण में पंचायत समिति कामां की 17 एवं नगर पंचायत समिति की 25 ग्राम पंचायतों में पंच एवं सरपंच पद के निर्वाचन प्रक्रिया सम्पन्न कराने के लिये पोलिंग पार्टियाॅं मय पुलिस जाप्ता के शनिवार को एमएसजे काॅलेज में अन्तिम प्रशिक्षण प्राप्त कर अपने मतदान केन्द्रों के लिये रवाना हो गई।


अन्तिम प्रशिक्षण दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी नथमल डिडेल  ने कहा कि मतदानकर्मी राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशों की अनुपालना करते हुए पूर्णं सावधानी और समझदारी के साथ निष्पक्ष रूप से मतदान प्रक्रिया सम्पन्न करवायंे। उन्होंने कहा कि मतदानकर्मी आदर्श आचार संहिता की पालना सुनिश्चित करते हुए बिना किसी भेदभाव या पक्षपात के स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं पारदर्शी मतदान कराया जाना सुनिश्चित करेंगे।

उन्होंने कहा कि सरपंच पद के लिए उपयोग की जाने वाली ईवीएम मशीनों की पूर्णं रूप से जांच कर ली गयी है। इसके पश्चात् भी यदि ईवीएम मशीन के संचालन में कोई अवरोध उत्पन्न हो तो तत्काल सम्बंधित अधिकारी के संज्ञान में लायें जिससे ईवीएम को ठीक या बदलवाया जा सके और मतदान में कोई रूकावट न हो।

शिक्षण के दौरान मास्टर ट्रेनर सुरेन्द्र गोपालिया ने मतदान दलों के कर्मियों को चुनाव प्रक्रिया एवं राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा दिये गये निर्देशों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पीठासीन अधिकारी मतदान प्रारम्भ होने से पूर्व प्रातः 7 बजे से माॅक पोल कराया जाना सुनिश्चित करेंगे। यह माॅक पोल प्रत्याशियों एवं अभिकर्ताओं की उपस्थिति में किया जायेगा।

माॅक पोल में प्रत्याशी एवं अभिकर्ता न होने की स्थिति में भी माॅक पोल किया जायेगा जिसके नोटा सहित प्रत्येक बटन के लिए कम से कम एक वोट किया जाना आवश्यक है या समय के अनुसार एक से अधिक वोट भी पीठासीन अधिकारी डलवा सकते हैं इसके पश्चात प्रत्येक बटन पर डाले गये मतों की संख्या को प्रदर्शित कर ईवीएम मशीन की पारदर्शिता की परख की जायेगी। इसके पश्चात क्लीयर का बटन दबाकर मतों को निरस्त कर ईवीएम मशीन को पुनः मतदान के लिए तैयार किया जायेगा। प्रशिक्षण के दौरान मतदान कर्मियों को सामग्री वितरण एवं संग्रहण के बारे में की गई व्यवस्थाओं की भी जानकारी दी गई।


प्रशिक्षण में मतदान कर्मियों को ईवीएम मशीन एवं मतपेटियों में विभिन्न प्रकार की सील लगाने की प्रक्रिया के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी। इसके पश्चात मतदान दलों को आवश्यक सुरक्षा जाप्ता, मतदान सामग्री की किट, ईवीएम मशीन एवं मतपेटियां देकर मतदान केन्द्रों के लिए रवाना किया।