Bharatpur News: तकनीकी एवं संस्कृत शिक्षा राज्य मंत्री ने किया ओला प्रभावित ग्राम पंचायतों का दौरा|

Last Updated on March 7, 2020 by Shiv Nath Hari

Bharatpur News: तकनीकी एवं संस्कृत शिक्षा राज्य मंत्री ने किया ओला प्रभावित ग्राम पंचायतों का दौरा|

  • भरतपुर क्षेत्र की ओलाप्रभावित ग्राम पंचायतों में से 17 का किया अवलोकन
  • सभी पीडित किसानों को दिलाया जायेगा मुआवजा
  • विशेष गिरदावरी प्रारम्भ, 15 दिनों तक चलेगी
Bharatpur News: Minister of State for Technical and Sanskrit Education visited hailstorm affected Gram Panchayats.
Bharatpur News: Minister of State for Technical and Sanskrit Education visited hailstorm affected Gram Panchayats.


भरतपुर, 7 मार्च। तकनीकी एवं संस्कृत शिक्षा राज्य मंत्री डाॅ. सुभाष गर्ग ने शनिवार को भरतपुर विधानसभा क्षेत्र के अतिवृष्टि एवं ओलावृष्टि से प्रभावित ग्रामपंचायतों में से 17 का दौरा कर फसल खराबे की जानकारी ली और किसानों को विश्वास दिलाया कि सभी को अधिकतम मुआवजा राशि मुहैया कराई जायेगी जिसके लिये विशेष गिरदावरी का कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है जो आगामी 15 दिनों तक चलेगा। प्रयास यह भी किया जायेगा कि भरतपुर जिले के किसानों को सरकार से विशेष पैकेज भी मिले ।


डाॅ. गर्ग ने शनिवार को ओलाप्रभावित जघीना, तुहिया, मॅहगाया, मौरोली कलां, सहनावली ,धौरमुई, बिलौठी , राटोलीरथभान, पीपला , हथैनी , फुलवारा, गाॅवरी, रूॅध ईकरन, ऊॅदरा, चिकसाना, ईकरन एवं बछामदी ग्राम पंचायत क्षेत्रों का दौरा कर फसल खराबे की जानकारी ली और सभी राजीव गाॅधी सेवा केन्द्रों में मौजूद ग्रामीणों को विश्वास दिलाया कि सरकार पीडित किसानों के प्रति संवेदनशील है और सभी पीडित किसानों को मुआवजा दिलाने के लिये कटिबद्व है जिन किसानों के किसान के्रडिट कार्ड बने हुये हैं और उनकी फसल बीमित है ऐसे किसानों को बीमा कम्पनी द्वारा मुआवजा राशि मुहैया कराई जायेगी जिसके सर्वे का कार्य कम्पनी के प्रतिनिधियों द्वारा शुरू किया जा रहा है। कम्पनी एक निर्धारित क्षेत्र में हुये खराबे का आंकलन कर समस्त गाॅव के खराबे को पूरा खराबा मान लेगी ।

उन्होंने बताया कि सभी पटवारियों एवं ग्रामसचिवो को मुआवजा राशि प्राप्त करने के लिये आवेदन पत्र मुहैया करा दिये गये हैं।


डाॅ. गर्ग ने बताया कि बीमा कम्पनी 33 प्रतिशत से अधिक फसल खराबे को शतप्रतिशत खराबा मानती है और क्षेत्र में इससे भी अधिक फसलों को नुकसान हुआ है किन्तु जिन किसानों के किसान के्रडिट कार्ड नहीं बने हैं अथवा किसानों ने अपनी फसल बटाई पर दूसरे किसानों को दे रखी है ऐसे सभी किसानों की विशेष गिरदावरी के दौरान पटवारी व ग्राम पंचायत सचिव सूची तैयार करेंगे ऐसे किसानों को राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन कोष (एनडीआरएफ) से मुआवजा राशि उपलब्ध कराई जायेगी। इसी प्रकार बीमा कम्पनी द्वारा जो फसलें बीमा की सूची में शामिल नहीं हैं उन्हें भी एनडीआरएफ से मुआवजा दिलाया जायेगा।


तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री ने पटवारी एवं सचिवों को हिदायत दी कि वे ओलाप्रभावित किसानों की सूची तैयार करने में कोताही नहीं बरतें यदि किसी तरह की लापरवाही पाई गई तो उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाायेगी। उन्होंने पंचायतीराज संस्थाओं के जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया कि वे किसानों की सूची तैयार करने में मदद करें और कोई भी किसान मुआवजा राशि प्राप्त करने से वंचित नहीं रहे।


अवलोकन के दौरान डाॅ. गर्ग के साथ भरतपुर के उपखण्ड अधिकारी संजय गोयल , पुलिस उपाधीक्षक शहर हवासिंह , तहसीलदार अशोक मित्तल , विकास अधिकारी देवेन्द्र सिंह सहित संबंधित विभागों के अधिकारी थे।

पीडित किसानों को मिले शतप्रतिशत मुआवजाः- पर्यटन मंत्री

तकनीकी एवं संस्कृत शिक्षा राज्य मंत्री द्वारा भरतपुर विधानसभा क्षेत्र की फसल खराबे वाली ग्राम पंचायतों के अवलोकन के दौरान तुहिया गाॅव में पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह भी पहॅुचे जहाॅ उन्होंने कहा कि भरतपुर जिले के तीनों मंत्री प्रयास कर रहे हैं कि सभी पीडित किसानों को शतप्रतिशत मुआवजा मिले और प्रयास यह भी किया जा रहा है कि भरतपुर जिले को राज्य सरकार स्पेशल पैकेज भी दे । उन्होंने कहा कि इस दुख की घडी में राज्य सरकार किसानों के साथ है और पूरा प्रयास कर पीडित किसानों को राहत दिलाई जायेगी लेकिन सडक जाम करने जैसे कार्य नहीं करें क्योंकि इससे आम लोगों को परेशानी होती है।

समृद्व लोग पीडित किसानों को दे आर्थिक सहायता:- डाॅ गर्ग

तकनीकी एवं संस्कृत शिक्षा राज्य मंत्री डाॅ. सुभाष गर्ग ने समृद्व लोगों से अपील की है कि वे अतिवृष्टि एवं ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान कर उनके दुख में भागीदार बनें। जिन संस्थाओं एवं लोगों ने सहायता उपलब्ध कराई है उनके प्रति भी उन्होंने आभार व्यक्त किया।

Leave a Comment