Bharatpur News: पैदल चल रहे प्रवासी श्रमिकों के लिए अस्थाई राहत शिविरों का संचालन

Last Updated on May 13, 2020 by Shiv Nath Hari

Bharatpur News: पैदल चल रहे प्रवासी श्रमिकों के लिए अस्थाई राहत शिविरों का संचालन

Bharatpur News: पैदल चल रहे प्रवासी श्रमिकों के लिए अस्थाई राहत शिविरों का संचालन

लुपिन की प्रेरणा पर रोड्वेज बस शुरु
हलेना/भरतपुर{विष्णु मित्तल} जिले में जयपुर-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग पर पैदल चल रहे प्रवासी श्रमिकों को भोजन-पानी, मेडिकल की सुविधाऐं उपलब्ध कराने एवं इन श्रमिकों को गन्तव्य स्थान तक जाने के लिए राज्य सरकार द्वारा बस-ट्रेनों की व्यवस्था सुनिश्चित होने तक राहत शिविरों में रखा जायेगा।

जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने बताया कि जयपुर-आगरा राजमार्ग पर पैदल चल रहे श्रमिकों की व्यवस्था के लिए अस्थाई राहत शिविर बनाये जायेंगे, इसके लिए स्थानों का चयन कर प्रभारी अधिकारियों की नियुक्ति कर दी गयी है। उन्होंने बताया कि जयपुर से आने वाली बसों के लिए राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय कमालपुरा, राउमावि बाछरैन, राउमावि हलैना, एसएनआई स्कूल डहरा मोड़, राउमावि लुलहारा के लिए महाराजा सूरजमल बृज विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार हेमन्त स्वरूप माथुर को प्रभारी अधिकारी एवं उपखण्ड अधिकारी वैर अमित वर्मा एवं उपखण्ड अधिकारी भुसावर मनमोहन मीणा को सहायक प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है।

इसी प्रकार दौसा से आने वाली बसों के लिए राउमावि बहनेरा, राउमावि बरसो एवं राउमावि मई गूजर में राहत शिविरों के लिए राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारी आकाश रंजन को प्रभारी अधिकारी एवं उपखण्ड अधिकारी भरतपुर संजय गोयल को सहायक प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है। ये प्रभारी एवं सहायक प्रभारी अधिकारी चिन्हित अस्थाई राहत शिविरों के सभी कमरों की पर्याप्त सफाई व्यवस्था कराने एवं उनमें बिछाने की व्यवस्था करवायेंगे। ठहरने वाले श्रमिकों के लिए पेयजल एवं समय-समय पर भोजन की व्यवस्था, प्रत्येक अस्थाई राहत शिविरों में मेडिकल चिकित्सा दलों द्वारा श्रमिकों का परीक्षण एवं प्रारम्भिक उपचार की व्यवस्था तथा इनके बीच सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क एवं सैनेटाईजर के उपयोग की अनिवार्यता सहित चिकित्सकीय गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित करवायेंगे।