Bharatpur Covid-19 live update: जिला कलक्टर नथमल डिडेल की जिलेवासियों से की अपील

Last Updated on April 9, 2020 by Shiv Nath Hari

Bharatpur Covid-19 live update: District Collector Nathmal Didel appeals to the residents
Bharatpur Covid-19 live update: District Collector Nathmal Didel appeals to the residents

Bharatpur Covid-19 live update: भरतपुर, 09 अप्रैल । जैसा कि आप सभी को विदित है कि इस समय पूरा विश्व कोरोना वायरस संक्रमण (कोविड-19) की महामारी से जूझ रहा है। मानव स्वास्थ्य और मानव जीवन को इस महामारी से कम से कम नुकसान हो, इसके लिए  चिकित्सक, स्वास्थ्यकर्मी, प्रशासन और पुलिस कंधे से कंधा मिलाकर दिन रात मेहनत कर रहे हैं, लेकिन इन प्रयासों को सफल बनाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण जिम्मेदारी किसी पर है तो वह है आप पर और भरतपुर जिले के निवासी समस्त आमजन पर।

Vidio news: Bharatpur Covid-19 live update: District Collector Nathmal Didel appeals to the residents

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिए जिल में लाॅकडाउन, आईपीसी की धारा 144 व विभिन्न स्थानों पर कफ्र्यू लगाकर निषेधात्मक प्रतिबन्ध लागू किये गये हैं। फिर भी यह जानकारी में आया है कि इन आदेशों की अवहेलना करते हुये अभी भी पड़ौसी राज्यों, हरियाणा एवं उत्तर प्रदेश की अन्तर्राज्यीय सीमा से सटे भरतपुर जिले के गांवों के सड़क मार्गों, शाॅर्टकट रास्तों एवं कच्चे मार्गों से होकर कुछ लोग आवागमन कर रहे हैं। कोरोना संक्रमण के प्रकोप को देखते हुए ये लोग आपके, आपके परिजनों और जिले के समस्त निवासियों के स्वास्थ्य के लिए खतरा बन सकते हैं। पुलिस एवं प्रशासन ने जिले के उत्तर प्रदेश व हरियाणा प्रदेश से लगती हुई सीमाओं को सील किया है तथा इसकी सतत् निगरानी की जा रही है।

जिम्मेदार और जागरूक नागरिक के तौर पर आप भी अवैध रूप से आवागमन करते ऐसे किसी व्यक्ति को देखें तो तत्काल इसकी सूचना उपखण्डस्तरीय कण्ट्रोल रूम अथवा नजदीकी पुलिस थाने में दें। ध्यान रखें आपकी सजगता न सिर्फ आपको, बल्कि अनेक लोगों को संक्रमण से बचा सकती है। सतर्क रहें, सुरक्षित रहें, स्वस्थ रहें।

कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए सभी ब्लाॅक से रेण्डम सैम्पलिंग शुरू

भरतपुर, 09 अपे्रल। जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने कहा है कि गुरूवार से जिले में प्रत्येक ब्लाॅक से रेण्डम सैम्पल लेकर कोरोना वायरस संक्रमण के परीक्षण के लिए भिजवाये जाने लगे हंै, ताकि कोरोना वायरस के सामुदायिक संक्रमण की आशंका को दूर किया जा सके।

उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों में कोरोना वायरस संक्रमित रोगी मिले है वहां कफ्र्यू लगाकर सीमाएं सील कर दी गई है। और स्वास्थ्य टीमों द्वारा सघन सर्वे करवाया जा रहा है। जिन व्यक्तियों में इनफ्लुएंजा जैसे लक्षण (आईएलआई) मिल रहे है उनका परीक्षण स्वयं बीसीएमएचओ के द्वारा किया जा रहा है। संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आये करीब 200 लोगों को जिला आरबीएम अस्पताल में लाकर भर्ती किया गया है तथा इनके स्वास्थ्य की लगातार 14 दिन तक माॅनिटरिंग की जा रही है।

जिला कलक्टर ने कहा कि बुधवार को कृषि, कृषि उत्पाद एवं औजार, आयुर्वेद सहित कुछ अतिरिक्त सेवाओं एवं दुकानों के लिए अनुमति प्रदान की गई थी। जिस कारण सड़कों पर अतिरिक्त भीड़ देखने को मिली। उन्होंने जिलेवासियों से पुनः अपील की है कि आकारण ही घरों से बाहर न निकलें इससे संक्रमण का खतरा बढ़ता है।

जिला कलक्टर ने कहा कि सीमावर्ती आगरा जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के बहुत से मामले सामने आये है जिसे देखते हुए जिले की अन्तर्राज्यीय सीमाओं को सील किया गया है। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र के निवासियों से अपील की है कि यदि कच्चे रास्तों या संपर्क मार्गों से होते हुए किसी को अन्तर्राज्यीय सीमा से आते हुए देखे तो तत्काल उपखण्ड स्तरीय नियंत्रण कक्ष, बीसीएमएचओ या पुलिस को सूचित करें। उन्होंने अवैध शराब बनाने या बिकने की सूचना भी जिला आबकारी अधिकारी, स्थानीय पुलिस थाना या नियंत्रण कक्ष को दें।
—————