भरतपुर कलेक्टर नथमल डिडेल ने की अपील एहतियात बरतना ही कोरोना संक्रमण से बचने का सबसे कारगर उपाय

Last Updated on April 11, 2020 by Shiv Nath Hari

Bharatpur Collector Nathmal Didel appeals as a precautionary measure, the most effective way to avoid corona infection

भरतपुर कलेक्टर नथमल डिडेल ने की अपील एहतियात बरतना ही कोरोना संक्रमण से बचने का सबसे कारगर उपाय

भरतपुर कलेक्टर नथमल डिडेल ने की अपील एहतियात बरतना ही कोरोना संक्रमण से बचने का सबसे कारगर उपाय

Bharatpur Collector Nathmal Didel appeals as a precautionary measure, the most effective way to avoid corona infection

भरतपुर, 11 अपे्रल। जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने कहा है कि देश में कोरोना वायरस संक्रमण जिस तेजी से बढ रहा है उसे देखते हुये आमजन को लाॅकडाउन , धारा 144 एवं कफ्र्यू की पालना और भी सख्ती से करनी होगी। उन्होंने कहा कि अब बडी संख्या में ऐसे पाॅजिटिव मामले भी सामने आ रहे हैं जिनमें संक्रमण के लक्षण दिखाई नहीं दे रहे हैं ऐसे हालात में एहतियात बरतना बहुत ही आवश्यक है और एहतियात बरतना ही कोरोना संक्रमण से बचने का सबसे कारगर उपाय है।

उन्होंने बताया कि जिले से अब तक लगभग 850 सैम्पल परीक्षण के लिये भिजवाये गये है जिनमें से 705 रिपोर्ट मिली है। अब तक 9 कोरोना वायरस संक्रमित रोगी जिले में मिले है, जिन्हें उपचार के लिये जयपुर भिजवाया गया है।

उन्होंने बताया कि कोविड-19 महामारी के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सार्वजनिक स्थानों एवं संस्थानों में थूकने, पान-तम्बाकू या अन्य गैर तम्बाकू उत्पाद खाने के बाद पीक को यहां-वहां थूकने पर प्रतिबन्ध लगा दिया है जिसको जिले में भी लागू कर दिया गया है ,इस नियम की पालना नहीं करने वाले पर राजस्थान ऐपिडेमिक डिजीजेज एक्ट, 1957, और आईपीसी की धारा 188 के तहत दण्डात्मक कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।

जिला कलक्टर ने कहा है कि लाॅकडाउन अवधि में प्रातः 9 बजे से दोपहर 12 बजे के दौरान आवश्यक वस्तुओं की दुकानों पर भीड़ देखने को मिल रही है तथा कई दुकानों पर एक-एक मीटर की दूरी पर गोले व मार्किंग नहीं होने से सोशल डिस्टेंसिंग की पालना नहीं हो पा रही है। दुकानदार दुकानों के बाहर गोले बनवाकर सोशल डिस्टेंसिंग की पाना सुनिश्चित करें ।

जिला कलक्टर ने बताया कि प्रशासन ने गाॅवों में बैंक मित्रों के माध्यम से पेंशनरों को घर घर जाकर पेंशन पहुॅचाने की व्यवस्था की है जिससे लाॅक डाउन के दौरान पेंशनधारियों को घर से बाहर नही निकलना पडे ।