भरतपुर: लोहागढ़ डिपो का मुख्य प्रबंधक और उसका ड्राइवर 10 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार

Last Updated on September 25, 2020 by Shiv Nath Hari

भरतपुर: लोहागढ़ डिपो का मुख्य प्रबंधक और उसका ड्राइवर 10 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार

Bharatpur: Chief Manager of Lohagarh Depot and its driver arrested taking bribe of 10,000
Bharatpur: Chief Manager of Lohagarh Depot and its driver arrested taking bribe of 10,000

भरतपुर. भ्रष्टाचार के खिलाफ प्रदेश में एसीबी की कार्रवाई लगातार जारी है. भष्ट्राचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) टीम ने शुक्रवार को रोडवेज के लोहागढ़ डिपो के मुख्य प्रबंधक भंवर अली और उसके ड्राइवर बेगराज को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों ट्रैप किया. मुख्य प्रबंधक ने कंडक्टर से मनचाहे रूट पर ड्यूटी लगाने और फ्लाइंग की कार्रवाई नहीं होने देने की एवज में रिश्वत मांगी थी.

पीड़ित कंडक्टर विजय कुमार सेन ने बताया कि मुख्य प्रबंधक भंवर अली उससे रिश्वत की मांग कर रहा था. आरोपी कम समय ड्यूटी कराने, कार्रवाई नहीं होने देने, निगम में चोरी करने की छूट देने, पुरानी अनुपस्थिति संबंधी कई मामले सुलझाने की बात बोलकर लंबे समय से रिश्वत की मांग कर रहा था. पिछले माह भी रिश्वत मांगी तो मैंने मना कर दिया. लेकिन इस माह फिर से रिश्वत का दबाव डाला तो, मुझे मजबूरन एसीबी में शिकायत करनी पड़ी.

वहीं एसीबी के एडिशनल एसपी महेश मीणा ने बताया कि लोहागढ़ डिपो के कंडक्टर विजय कुमार सेन से मुख्य प्रबंधक भंवर अली द्वारा 10 हजार रुपए प्रति माह की रिश्वत मांगने की शिकायत मिली. शिकायत मिलने पर एसीबी ने इसकी पुष्टि की.

शुक्रवार को परिचारक विजय सेन भरतपुर- अलवर रूट से बस लेकर लौटा तो डिपो पर ही मुख्य प्रबंधक गाड़ी लेकर पहुंच गया. उसने अपने चालक बेगराज को रिश्वत की राशि देने के लिए कहा. जिस पर एसीबी टीम ने उसे 10 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया. फिलहाल एसीबी ने मामला दर्ज कर लिया है और आरोपियों से पूछताछ की जा रही है.