कोरोना संक्रमण में आयुर्वेद विभाग की जिम्मेदारियां बढी -नथमल डिडेल

Last Updated on August 19, 2020 by Shiv Nath Hari

कोरोना संक्रमण में आयुर्वेद विभाग की जिम्मेदारियां बढी -नथमल डिडेल

Program Coordinator Senior Ayurveda Medical Officer Dr. Chandraprakash Dixit was honored with a citation and a citation for his services.
कार्यक्रम समन्वयक वरिष्ठ आयुर्वेद चिकित्साधिकारी डाॅ. चन्द्रप्रकाश दीक्षित को उनकी सेवाओं के लिए प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिंह देकर सम्मानित किया गया।

भरतपुर, 19 अगस्त। कोरोना संक्रमण में बचाव एवं रोकथाम के लिए आयुर्वेद  औषधिय काढे से मिले सकारात्मक परिणामों के मद्देनजर आयुर्वेद विभाग की जिम्मेदारियां बढी हैं। इसक लिये आयुर्वेद से जुडे लोगों को आमजन के अच्छे स्वास्थ्य और रोगों में शीघ्र लाभ के लिए अपने प्रयास और अधिक विकसित किये जाने होंगे। यह बात जिला कलक्टर नथमल डिडेल द्वारा आयुर्वेद विभाग की काढा वितरण टीम द्वारा लूपिन फाउन्डेशन के सहयेाग से आयोजित कार्यशाला में कही।

उन्होंने कहा कि आयुर्वेद को आज  की आवश्यकता के अनुरूप सरल और प्रभावी बनाते हुए प्रचार प्रसार के माध्यम से अधिकाधिक लोगों को आयुर्वेद से जोडने के प्रयास करने की सलाह दी। उन्होंने आमजन को कोरोन से बचाव के लिए मास्क, सोशल डिस्टेन्सिंग एवं सेनेटाइजर के प्रति जागरूक रहने की बात कही। कार्यशाला का शुभारम्भ मुख्य अतिथि नथमल डिडेल, अध्यक्ष सीताराम गुप्ता, विशिष्ट अतिथि आयुर्वेद विभाग संभाग भरतपुर के अतिरिक्त निदेशक  डाॅ. भूदेव शर्मा, उप निदेशक डाॅ. निरंजन सिंह, सहायक निदेशक डाॅ.संजीव तिवारी, वाल कल्याण समिति अध्यक्ष गंगा राम पाराशर, रसायनशाला प्रबंधक डाॅ. सुशील पाराशर एवं लूपिन के क्षेत्रीय प्रबन्धक डाॅ. राजेश शर्मा द्वारा भगवान धनवन्तिरी की पूजा अर्चना से किया गया।

Ayurveda Department's responsibilities in Corona infection increased - Nathal Didel

कार्यशाला के मुख्य वक्ता एवं कार्यक्रम समन्वयक वरिष्ठ आयुर्वेद चिकित्साधिकारी डाॅ. चन्द्रप्रकाश दीक्षित द्वारा काढे के महत्व एवं उपयोगिता के बारे में सचित्र प्रदर्शनी के द्वारा प्रजेन्टेशन किया गया। उन्होंने काढे के औषधीय द्रव्यों की कार्मुक्ता के वैज्ञानिक तथ्य की जानकारी देते हुए कोरोना संक्रमित रोगियों पर मिल रहे परिणामों की विस्तृत जानकारी दी। इस अवसर पर लूपिन के अधिशाषी निदेशक सीता राम गुप्ता द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिए किये जा रहे प्रयासों में संस्था द्वारा पूर्ण सहयोग दिये जाने की बात कही।

सभी अतिथियों का स्वागत डाॅ. राजेश शर्मा द्वारा किया गया। कार्यशाला में अतिथियों द्वारा काढा वितरण टीम प्रभारी डाॅ. चन्द्रप्रकाश दीक्षित, टीम सदस्य डाॅ. महेश लवानियां, डाॅ. भूपेन्द्र चंदेला, डाॅ. दिलीप तिवारी, डाॅ. प्रेम सिंह, डाॅ. शैलेशशर्मा, डाॅ. रविन्द्र गर्ग, डाॅ. लक्ष्मी नारायणशर्मा, डाॅ. मदन मोहन शर्मा, डाॅ. घनश्याम शर्मा, डाॅ. श्याम सिंह, डाॅ. बालस्वरूप, डाॅ. दारा सिंह, डाॅ. भगवान सिंह सोगरवाल, मेनलर्स दिनेश शर्मा,रामवीर सिंह, बलराम शर्मा, नरेन्द्र सिंह, सत्यभान, मधुवन सिंह, सुनील शर्मा, को उनकी सेवाओं के लिए प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिंह देकर सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर समाजसेवी राम सिंह वर्मा, नेमीचंद मुदगल, कौशलेशशर्मा, डाॅ. राजेश जांगिड, डाॅ. वीरेन्द्र सिंह, डाॅ. किशोर सिंह, योगेश शर्मा आदि गणमान्य लोग मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन डाॅ.सुशील पाराशर ने किया एवं आभार उप निदेशक डाॅ. निरंजन सिंह द्वारा व्यक्त किया।