Adhik maas purnima 2020: कब है अधिकमास की पूर्णिमा, जानिए सत्यनारायण व्रत और पूजा का समय

Last Updated on September 29, 2020 by Shiv Nath Hari

Adhik maas purnima 2020: कब है अधिकमास की पूर्णिमा, जानिए सत्यनारायण व्रत और पूजा का समय

Published By: Shiv Nathhari, Last updated: 29 Sep 2020 09:40 PM IST

Adhik maas purnima 2020: sntv24samachar graphics.
Adhik maas purnima 2020: sntv24samachar graphics.

Adhik maas purnima 2020: पंचांग के मुताबिक अधिकमास की पूर्णिमा इस साल 1 अक्टूबर दिन गुरुवार को पड़ रही हैं अधिकमास या मलमास की पूर्णिमा का विशेष महत्व होता हैं ।

इस दिन लक्ष्मी नारायण की पूजा आराधना, स्नान और दान का विशेष विधान हैंपूर्णिमा के दिन या एक दिन पहले लोग श्रीसत्यनारायण व्रत करते हैं और उनकी कथा का श्रवण भी करते हैं।

इस दिन भगवान श्री विष्णु की पूजा पूरे विधि विधान से करें। तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं अधिकमास की पूर्णिमा का शुभ मुहूर्त।

अधिकमास की पूर्णिमा का शुभ मुहूर्त।

अधिकमास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि की शुरूवात 30 सितंबर दिन बुधवार को देर रात में 12 बजकर 25 मिनट से हो रहा हैं जो अगले दिन 1 अक्टूबर दिन गुरुवार को देर रात 2 बजकर 34 मिनट तक रहेगी।

इस तिथि को सर्वार्थ सिद्धि योग भी बन रहा हैंराहुकाल दोपहर 1 बजकर 39 मिनट से दोपहर 3 बजकर 9 मिनट तक रहेगा। उस दिन पंचक पूरे दिन रहेगा।

वही अगर आपको श्रीसत्यनारायण व्रत रहना है तो 1 अक्टूबर को रखें। उस दिन विधि विधान से सत्यनारायण की पूजा करें और कथा भी सुनें।

श्रीसत्यनारायण की पूजा

श्रीसत्यनारायण की पूजा करने से जातक को भगवान श्री विष्णु का आशीर्वाद और कृपा प्राप्त होती हैं।

इनकी पूजा किसी भी दिन की जा सकती हैं। मगर पूर्णिमा तिथि को विशेष तौर पर श्रीसत्यनारायण की पूजा होती हैं।

संध्या के समय पूजा करें और प्रसाद वितरण करके स्वयं भी ग्रहण करें और व्रत को पूर्ण कर लें।

वही अधिक मास की पूर्णिमा का विशेष महत्व ​इसलिए भी होता हैं क्योंकि यह मास श्री विष्णु को समर्पित हैं ।

मलमास में भगवान विष्णु की पूजा करना मंगलकारी होता हैं और पूर्णिमा के दिन उनके ही श्रीसत्यनारायण अवतार की पूजा अर्चना की जाती हैं।