इंडिया पोस्ट पेमेन्ट बैंक के माध्यम से होगा डोर-टू-डोर भुगतान

Last Updated on April 13, 2020 by Shiv Nath Hari

Door to door payment will be done through India Post Payments Bank

Door to door payment will be done through India Post Payments Bank

भरतपुर, 13 अप्रैल। जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने आदेश जारी कर जिले में कोरोना वायरस महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए राष्ट्रीयव्यापी लाॅकडाउन की जारी गाईडलाईन के तहत सोशल डिस्टेंसिंग की पालना के लिए जन-धन खाते, सामाजिक सुरक्षा पेंशनधारियों के खाते व अन्य सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों के खातों में हस्तांतरित की गई राशि के आहरण के लिए डाक विभाग की इंडिया पोस्ट पेमेन्ट बैंक के एईपीएस के माध्यम से लाभार्थियों को डोर-टू-डोर राशि आहरित करने के निर्देश दिये गये है।

आदेशानुसार जिले में विभिन्न योजनाओं के माध्यम से लाभार्थियों के खातों में हस्तांतरित राशि के भुगतान के लिए बैंक शाखाओं में भीड़ की स्थिति होने के कारण सोशल डिस्टेंसिंग की व्यवहारिक पालना कराये जाने में परेशानी आ रही है। जिसके कारण इंडिया पोस्ट पेमेन्ट बैंक की एईपीएस सिस्टम के माध्यम से खाताधारक उसका आधार सम्बन्धित बैंक के बचत खाते के साथ लिंक है, राशि का भुगतान प्राप्त कर सकेगा। जिसकी अधिकतम सीमा 5 हजार रूपये रहेगी।

यह राशि डाक कर्मी द्वारा बाॅयोमैट्रिक मशीन के द्वारा दी जायेगी साथ ही प्रत्येक भुगतान के पश्चात बाॅयोमैट्रिक मशीन को सेनेटाईज किया जाना सुनिश्चित करेंगे तथा डाकघर के मुख्य अधीक्षक प्रतिदिन माॅनिटरिंग कर रिपोर्ट भिजवाया जाना सुनिश्चित करेंगे साथ ही समस्त उपखण्ड अधिकारी भी अपने-अपने क्षेत्रों में डाक पेमेन्ट व्यवस्था को प्रभावी किया जाना सुनिश्चित करेंगे।